Education: विश्वविद्यालय ने आखिर मान ली कॉलेज छात्राओं की मांग, मिलेगा मौका

एटीकेटी विद्यार्थियों को अंतिम अवसर

By: ashish mishra

Published: 01 Mar 2020, 11:18 AM IST

छिंदवाड़ा. रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय ने विद्यार्थियों की मांग मान ली है। विश्वविद्यालय ने जिले के कॉलेजों में अध्ययरत बीए, बीकॉम, बीएससी, बीएचएससी द्वितीय, चतुर्थ एवं षष्टम सेमेस्टर के एटीकेटी विद्यार्थियों को अंतिम अवसर देते हुए ऑनलाइन माध्यम से परीक्षा फॉर्म भरने की की तिथि जारी कर दी है। विद्यार्थी 3 से 8 मार्च तक परीक्षा फॉर्म भर सकेंगे। निर्धारित तिथि तक अगर विद्यार्थी परीक्षा फॉर्म नहीं भर पाते हैं तो उन्हें 100 रुपए विलंब शुल्क के साथ 11 मार्च तक परीक्षा फॉर्म भरने की छूट रहेगी। गौरतलब है कि राजमाता सिंधिया गल्र्स कॉलेज की छात्राओं ने बीते माह रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय द्वारा घोषित किए गए एटीकेटी परीक्षा परिणाम से नाराजगी जताई थी। उन्होंने छात्रासंघ अध्यक्ष रेशमा खान के नेतृत्व में सडक़ पर उतर कर कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर गुहार लगाई थी। अंतत: विश्वविद्यालय ने विद्यार्थियों की मांग को मानते हुए उन्हें फिर से एटीकेटी परीक्षा देने की अनुमति प्रदान कर दी है।

एक से अधिक विषय में एटीकेटी पर 1580 रुपए फीस
विश्वविद्यालय ने भले ही विद्यार्थियों को एटीकेटी परीक्षा देने का एक और मौका दिया हो, लेकिन इसके एवज में विश्वविद्यालय द्वारा विद्यार्थियों से भारी फीस ली जाएगी। रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय उप कुलसचिव(परीक्षा) द्वारा जारी किए गए अधिसूचना में बीए, बीकॉम द्वितीय, चतुर्थ एवं षष्टम सेमेस्टर में अगर किसी विद्यार्थी की एक से अधिक बार एटीकेटी आई है तो उसे 1580 रुपए फीस देनी होगी। इसके अलावा बीएससी, बीएचएससी द्वितीय, चतुर्थ एवं षष्टम सेमेस्टर में अगर एक से अधिक विषय में एटीकेटी आई है तो विद्यार्थी को 1680 रुपए परीक्षा फीस देनी होगी। वहीं बीए, बीकॉम, बीएससी, बीएचएससी द्वितीय, चतुर्थ, षष्टम सेमेस्टर में एक विषय में एटीकेटी आने वाले विद्यार्थियों को 1230 रुपए फीस देनी होगी।

ashish mishra Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned