ऐसा लगाया इंजेक्शन कि आठ माह के मासूम ने तोड़ दिया दम, देखें वीडियो

नाहर नर्सिंग होम में देर रात हंगामा, लगाया लापरवाही का आरोप, मौके पर पहुंची पुलिस

By: Rajendra Sharma

Published: 24 May 2018, 12:32 PM IST

छिंदवाड़ा . सत्कार तिराहे के समीप नाहर नर्सिंग होम में उस समय हंगामा मच गया जब गुड़ी निवासी रंजीत वानखेडे के आठ माह के पुत्र अनिकेत की इंजेक्शन लगने के बाद अचानक मौत हो गई। मासूम के मामा गोपाल सिंह ने बताया कि अनिकेत को बुखार आने के बाद रात नौ बजे नाहर नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया था। इस दौरान डॉक्टर मौजूद नहीं थे। मौके पर मौजूद कम्पाउंडर ने अनिकेत का उपचार शुरू कर दिया। कम्पाउंडर ने बच्चे को कुछ इंजेक्शन लगाए इस दौरान वह रो रहा था। अचानक ही बच्चे की सांस रुक गई और उसने दम तोड़ दिया। बच्चे की मौत के बाद परिजन ने हंगामा शुरू कर दिया। परिजन ने मौके पर मौजूद कम्पाउंडर से मारपीट की तथा मौके पर पहुंचे डॉक्टर प्रवीण नाहर के साथ भी झूमाझटकी की।
इस संबंध में डॉक्टर
प्रवीण नाहर का कहना है कि बच्चे की सांस नली मेें दूध फंसने से उसकी सांस रुक गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने बताया कि परिजन की शिकायत पर पुलिस जांच कर रही है।

 

सालगिरह पर काटा केक , नजर आई फफूंद

बिक रही अमानक खाद्य सामग्री

छिंदवाड़ा . स्वास्थ्य विभाग के खाद्य एवं औषधि प्रसंस्करण विभाग की लचर प्रणाली के कारण लोग ठगा हुआ सा महसूस करने
लगे हैं।
ऐसा ही एक मामला बुधवार को प्रकाश में आया जब राजपाल चौक निवासी युवक ने शादी की सालगिरह मनाने कोतवाली के समीप स्थित दुकान से केक खरीदा। दोपहर में लोग एकत्रित हुए तथा केक काटा गया। इस दौरान सभी लोगों ने शौक से एक दूसरे को केक खिलाया। इसी दौरान एक युवक को केक पर लगी फफूंद नजर आई। इसके बाद तत्काल युवकों ने बेकरी पहुंचकर आधा बचा केक दुकान संचालक को दिखाया तथा फटकार लगाई तथा इस दौरान युवकों ने बेकरी मंे रखे अन्य केक देखे तो नीचे सभी में फफूंद लगी हुई थी। जिसके बाद युवकों का गुस्सा जमकर दुकान संचालक पर फूटा। गुस्सा देख संचालक ने युवकों से माफी मांगी तथा जिस बेकरी से केक बुलाया गया था उसे फटकार लगाते हुए नया केक बुलाकर दिया। इसके बाद युवकों का गुस्सा शांत हुआ।

Rajendra Sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned