कोरोना टीकाकरण में दिखा बुजुर्गों का उत्साह, पढ़ें पूरी खबर

- पांच शासकीय और तीन निजी केंद्रों में पहुंचे हितग्राही

By: Dinesh Sahu

Published: 02 Mar 2021, 11:35 AM IST

छिंदवाड़ा/ कोरोना टीकाकरण अभियान 2.0 के तहत सोमवार को जिले के आठ केंद्रों में बुजुर्गों और गंभीर रोगियों ने कोरोना सुरक्षा की पहली डोज लगवाई। कलेक्टर सौरभ कुमार सुमन के मार्गदर्शन में पहले दिन 519 लोगों को टीका लगाया गया तथा टीका लगने के बाद करीब आधा घंटा आब्जर्वेशन में रखने के बाद किसी ने कोई समस्या नहीं होना बताया।

वैक्सीनेशन के लिए बुजुर्गों में काफी उत्साह नजर आया, जिसके लिए वे पहले ही केंद्रों में अपना पंजीयन कराने पहुंच गए। बताया जाता है कि 60 वर्ष से अधिक उम्र और 45 से 59 वर्ष आयु वर्ग के गंभीर रोगों से पीडि़तों ने चिकित्सक द्वारा जारी प्रमाण-पत्र प्रस्तुत करने पर टीका लगाया गया।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जीसी चौरसिया ने बताया कि जिले में मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल, सिविल हॉस्पिटल चांदामेटा, सौंसर, अमरवाड़ा समेत निजी चिकित्सा संस्थान आनंद, नाहर और आरोग्य में टीकाकरण किया गया। डॉ. चौरसिया ने बताया कि टीकाकरण के लिए पंजीयन कोविन-ऐप और आरोग्य सेतु ऐप के माध्यम से ऑनलाइन किया जा सकता है। साथ ही सुविधा के अनुसार स्लॉट बुक कर टीका भी लगाया जा सकता है। हालांकि आवश्यक दस्तावेज प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा।


महिला बुजुर्गों ने लगाया सबसे पहले टीका -


मेडिकल कॉलेज टीकाकरण केंद्र में सबसे पहले हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी चंदनगांव और नागपुर नाका के पास रहने वाली मधुबाला तिवारी, कृष्णा अवस्थी और छाया शुक्ला ने टीका लगवाया। साथ ही सेल्फी पाइंट पर फोटो खींचवाकर अपने अनुभव में सांझा किए।


सर्वर बना समस्या -


कोरोना टीकाकरण के पंजीजन के लिए लोगों को काफी देर तक समय करना पड़ रहा था। इसकी वजह सर्वर का धीरे चलना बताया जाता है। वहीं चिकित्सा प्रमाण-पत्र के लिए व्यवस्था बनाए जाने से बीमार हितग्राहियों को आसानी हुई।


यह रही टीकाकरण की स्थिति -


केंद्र टीकाकरण संख्या


जिला अस्पताल 68
मेडिकल कॉलेज 96
आरोग्य हॉस्पिटल 60
आनंद हॉस्पिटल 87
नाहर हॉस्पिटल 67
सिविल हॉस्पिटल चांदामेटा 59
सिविल हॉस्पिटल सौंसर 42
सिविल हॉस्पिटल अमरवाड़ा 40

COVID-19
Show More
Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned