जेई से लेकर डीई तक हर दिन देखेंगे बिजली सब स्टेशन

अघोषित कटौती से विभाग तंग,एसई ने सोनाखार सब स्टेशन में की समीक्षा

By: prabha shankar

Published: 17 Apr 2019, 11:19 AM IST

छिंदवाड़ा. शहरी और ग्रामीण इलाकों में आंधी-तूफान से प्रभावित अघोषित कटौती से बिजली विभाग पर आम जनता का दबाव बनता जा रहा है तो वहीं शासन स्तर से इसे रोकने के सख्त निर्देश दिए जा रहे हैं। इसे देखते हुए अधीक्षण यंत्री वायके सिंघई ने मंगलवार को सोनाखार 33केवी सब स्टेशन पर पहुंचकर बिजली आपूर्ति की समीक्षा की और कनिष्ठ यंत्री से लेकर कार्यपालन अभियंता तक की जिम्मेदारी तय की। इसके साथ ही बिजली लाइन में आ रही पेड़ों की डालियां काटने के लिए अभियान शुरू कराया।
बताया गया कि सोनाखार सब स्टेशन से शहरी और ग्रामीण इलाकों की करीब 50 किमी की बिजली आपूर्ति होती है। इस सब स्टेशन में पिछले कुछ दिनों से लगातार खराबी के चलते अघोषित कटौती की स्थिति निर्मित हो रही है। खासकर सोनपुर प्रधानमंत्री आवास सिरदर्द हो रहा है। इसकी शिकायतों को देखते हुए अधीक्षण यंत्री वायके सिंघई बीती सोमवार की रात सोनखार पहुंचे। इसके बाद उन्होंने दोबारा मंगलवार को दोपहर 2 बजे पहुंचकर शहरी और ग्रामीण अधिकारियों की समीक्षा बैठक की। उन्होंने कहा कि अब कनिष्ठ यंत्री से कम रैंक के कोई अधिकारी लाइनमेन को बिजली के स्थायी सुधार के लिए अनुमति जारी नहीं कर सकेंगे। इसके साथ ही जेई से लेकर डीई तक शाम 6 से 10 बजे तक अपने क्षेत्र का भ्रमण कर सकेंगे। अधिकारी प्रत्येक सब स्टेशन का निरीक्षण करेंगे। इससे कटौती को हर संभव रोका जाएगा।

prabha shankar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned