युवा स्वाभिमान योजना में गड़बड़झाला, फिर से होगी काउंसलिंग

युवा स्वाभिमान योजना में गड़बड़झाला, फिर से होगी काउंसलिंग
Youth self respect plan

Prabha Shankar Giri | Publish: Apr, 06 2019 08:00:00 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

पीएम कौशल उन्नयन सेंटर की मान्यता निरस्त होने से मुश्किल में फंसे युवा

छिंदवाड़ा. प्रधानमंत्री कौशल उन्नयन योजना से जुड़े जिले के 16 प्राइवेट सेंटर्स की मान्यता निरस्त होने से करीब 480 युवाओं का रोजगार मुश्किल में फंस गया है। उन्हें करीब 15 दिन की ट्रेनिंग के मानदेय का नुकसान हो गया है। अब उनकी काउंसलिंग पुन: 8,9 और 10 अप्रेल को नगर निगम योजना कार्यालय में होगी। फिर उन्हें मुख्यमंत्री कौशल विकास केन्द्र की ट्रेनिंग आवंटित की जाएगी। निगम की जानकारी के मुताबिक युवा स्वाभिमान पोर्टल में रजिस्टर्ड युवक-युवतियों में से 1471 को ट्रेनिंग का कार्य आवंटित किया गया है। इनमें से 480 युवाओं को जिले के 16 प्रधानमंत्री कौशल विकास उन्नयन सेंटर की जॉब ट्रेनिंग दी गई थी।
ऐन वक्त पर इन सेंटरों की मान्यता निरस्त कर दी गई। इनका रिनुअल भी नहीं हो पाया है। इसके चलते इन सेंटरों में ट्रेनिंग लेने पहुंचे युवाओं में किसी का 10 दिन तो किसी के 15 दिन की ट्रेनिंग लेने का नुकसान हुआ है। इससे उन्हें इस अवधि का भुगतान नहीं हो पाएगा। युवा स्वाभिमान योजना देख रहे सिटी मिशन मैनेजर उमेश पयासी का कहना है कि ऐसे युवाओं की काउंसलिंग 8 से 10 अप्रैल के बीच कर उन्हें पुन: मुख्यमंत्री कौशल उन्नयन सेंटर आवंटित किए जाएंगे।
पहले चरण में 272 युवाओं को 5500 रुपए
इस योजना के पहले चरण में नगर निगम में 10 दिन की हाजिरी और 30 दिन की ट्रेनिंग पूर्ण करने वाले 272 युवाओं को करीब 5500 रुपए का मानदेय जल्द मिलेगा। इसके भुगतान ऑनलाइन उनके बैंक खातों में किया जाएगा। नगरीय प्रशासन विभाग के दिशा-निर्देशों के तहत सहायक आयुक्त आरएस बाथम को नोडल अधिकारी बनाया गया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned