धूल खा रहे दिव्यांगों के उपकरण

जनपद पंचायत में दिव्यांगों के लिए आये सहायक उपकरण एवं अन्य सामग्री का वितरण का मामला श्रेय लेने की होड़ में उलझ गया है। लंबी अवधि बीतने के बाद भी दिव्यांगों को उपकरण प्रदान नहीं किए। वर्तमान में जनपद पंचायत के कमरों में उपकरण और सामग्री पडी हुई है ।

By: Rahul sharma

Published: 13 Oct 2021, 10:10 PM IST

छिन्दवाड़ा/ परासिया. जनपद पंचायत में दिव्यांगों के लिए आये सहायक उपकरण एवं अन्य सामग्री का वितरण का मामला श्रेय लेने की होड़ में उलझ गया है। दिव्यांगों के लिए मोटराइज्ड ट्रायसाइकिल ,व्हीलचेयर, बैशाखी, ट्रायसाइकिल सहित अन्य उपकरण वितरण के लिए आए थे । वितरण के लिए तिथि निश्चित कर बाकायदा आमंत्रण पत्र बांट दिए, लेकिन ऐन मौके पर कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया ।अचानक स्थगन के कारण बडी संख्या में दिव्यांग हितग्राहियों को कार्यक्रम स्थल से निराश लौटना पडा था। इसके बाद विधायक सोहन वाल्मीकि ने सत्ता पक्ष के दबाव में कार्यक्रम निरस्त करने का आरोप लगाते हुए नाराजगी जाहिर की थी। कु छ समय बाद प्रशासन ने विधायक निधि से स्वीकृत मोटराइज्ड ट्रायसाइकिल का वितरण विधायक द्वारा कराया ,लेकिन अन्य सामग्री का वितरण नहीं किया गया। उस समय तर्क दिया गया कि उपकरण प्रदान करने वाली एजेंसी के लोग नहीं आए है। बाद में प्रशासन ने निर्णय लिया कि दिव्यांगों को ग्राम पंचायत के माध्यम से व्हील चेयर, ट्रायसाइकिल का वितरण कराया जाएगा। लंबी अवधि बीतने के बाद भी दिव्यांगों को उपकरण प्रदान नहीं किए। वर्तमान में जनपद पंचायत के कमरों में उपकरण और सामग्री पडी हुई है । जनपद के अधिकारी कहते है कि आदेश मिलने के बाद वितरण कराया जाएगा।

Rahul sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned