शहर में प्रतिदिन निकलता है इतना कचरा,सारे अनुमान हो जाते हैं फेल

शहर में प्रतिदिन निकलता है इतना कचरा,सारे अनुमान हो जाते हैं फेल

manohar soni | Updated: 04 Jun 2019, 11:32:34 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

स्वच्छता सर्वेक्षण 2020: जून में नगर निगम भेजेगा पहली रिपोर्ट,दो हजार अंकों की शुरू होगी कवायद

छिंदवाड़ा.शहर में प्रतिदिन 64 टन घरेलू और व्यवसायिक कचरा निकलता है। इसके डोर-टू-डोर कलेक्शन से लेकर पृथककरण और अंतिम निस्तारण जामुनझिरी कचरा प्लांट तक पहुंचाने में 865 कर्मचारी लगे रहते हैं। यह जानकारी स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 की प्रतिस्पर्धा की पहली तिमाही रिपोर्ट का हिस्सा है। इसे जून माह में नगरीय प्रशासन विभाग से लेकर केन्द्रीय शहरी विकास मंत्रालय दिल्ली को भेजा जाएगा। इस रिपोर्ट के आधार पर ही नगर निगम को तय दो हजार अंकों में से परफारमेंस अंक मिलेंगे।
इस बार स्वच्छता सर्वेक्षण में हर तिमाही के शहर के स्वच्छता परफारमेंस के अंक निर्धारित किए गए हैं। इस गाइड लाइन के मुताबिक पहला चरण अप्रैल से जून तक निर्धारित है तो दूसरा चरण जुलाई से सितम्बर तथा अंतिम चरण अक्टूबर से दिसम्बर के बीच होगा। दिसम्बर में तीनों चरण का फाइनल मूल्यांकन किया जाएगा, जिसके हिसाब से नगर निगम को रैंकिंग दी जाएगी। पहले चरण में अप्रैल का महीना लोकसभा चुनाव की तैयारियों की भेंट चढ़ गया तो मई में चुनावी रिजल्ट की तैयारियों पर ज्यादा काम नहीं हो पाया। लोकसभा चुनाव की आचार संहिता हटने के बाद नगर निगम ने स्वच्छता सर्वेक्षण की तैयारियों पर ध्यान देना शुरू कर दिया है। निगम के कर्मचारियों के मुताबिक पहले चरण में शहर में साफ-सफाई को दुरस्त करने का काम हो रहा है। शहर के 48 वार्ड दरोगा और रात्रिकालीन समय के दो दरोगा की निगरानी में कचरा कलेक्शन,बर्मन की जमीन में पृथककरण तथा जामुनझिरी प्लांट तक निस्तारण पर ध्यान केन्द्रित किया गया है। इसके अलावा आम जनता से फीडबैक भी लिया जा रहा है।
....
मई-जून में सूखा कचरा ज्यादा
सफाई कर्मचारियों के मुताबिक भीषण गर्मी के चलते मई माह में इस समय प्लास्टिक,कागज समेत सूखा कचरा ज्यादा एकत्रित हुआ है। जून में बारिश आने तक यह स्थिति बनी रहेगी। उसके बाद बारिश में सूखा कचरा होगा। फिलहाल शहर में कचरा निस्तारण की प्रारंभिक तैयारी पर ही ध्यान फोकस किया गया है। शहर में 113 छोटे-बड़े नाले हैं जिसकी 80 फीसदी सफाई कर ली गई है। इससे बारिश के पानी के बहाव में समस्या नहीं आएगी।
....
सर्वेक्षण में यह भी रखना होगा ध्यान
सर्वेक्षण में दस्तावेज प्रमाणीकरण का डाटा गलत होता है तो नेगेटिव अंक कट जाएंगे। सर्वेक्षण में स्टार रेटिंग को बनाए रखा गया है। इसमें 25 प्रतिशत अंक सेवा,25 सिटीजन फीडबैक,25 डायरेक्ट ऑब्जर्वरेशन, 20 प्रमाणीकरण व प्रदर्शन तथा 5 प्रतिशत अंक स्टार रेटिंग के आधार पर दिए जाएंगे। पिछली बार सर्वेक्षण पांच हजार अंकों का था। निगम के स्वच्छता सर्वेक्षण से जुड़े कर्मचारियों का कहना है कि नई गाइड लाइन के हिसाब से स्वच्छता सर्वेक्षण की तैयारियां चुनौती है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned