प्राइवेट डॉक्टरों की डिग्रियों की हुई जांच

mantosh singh

Publish: Mar, 14 2018 05:33:18 PM (IST)

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
प्राइवेट डॉक्टरों की डिग्रियों की हुई जांच

जिले में स्वास्थ्य सेवाओं की कमी के कारण ग्रामीण क्षेत्र में इन दिनों झोलाछाप डॉक्टरों का बोलबाला है। जिसके चलते ग्रामीण उचित चिकित्सा के अभाव में इन झोलाछाप डॉक्टरों के हाथों उपचार करने मजबूर हैं। कलेक्टर जेके जैन के निर्देश अनुसार मंगलवार को रामाकोना ग्राम पंचायत में जांच अधिकारी के रूप में पंचायत समन्वयक अधिकारी घनश्याम डेहरिया को डॉक्टरों की डिग्रियों की जांच करने के लिए भेजा गया।

रामाकोना. जिले में स्वास्थ्य सेवाओं की कमी के कारण ग्रामीण क्षेत्र में इन दिनों झोलाछाप डॉक्टरों का बोलबाला है। जिसके चलते ग्रामीण उचित चिकित्सा के अभाव में इन झोलाछाप डॉक्टरों के हाथों उपचार करने मजबूर हैं। कलेक्टर जेके जैन के निर्देश अनुसार मंगलवार को रामाकोना ग्राम पंचायत में जांच अधिकारी के रूप में पंचायत समन्वयक अधिकारी घनश्याम डेहरिया को डॉक्टरों की डिग्रियों की जांच करने के लिए भेजा गया। ग्राम उपसरपंच अब्दुल कलाम मुन्ना की उपस्थिति में रामाकोना क्षेत्र में अपनी निजी चिकित्सा सेवाएं दे रहे हैं सभी डॉक्टरों की डिग्रियों की जांच की गई। सभी निजी चिकित्सा सेवा दे रहे डॉक्टरों ने जांच अधिकारी के समक्ष अपने-अपने दस्तावेज जमा कराए। जिन डॉक्टरों ने अपने दस्तावेज जमा कराए हैं उनमें डॉ. गुलाबराव पांडे, डॉ. वर्षा पांडे, डॉ. मंगेश भक्ते, डॉ. सुसेन मलिक, डॉ. पद्माकर चौहान, डॉ. विश्वास आदि ने अपने मूल दस्तावेज दिए। जांच अधिकारी द्वारा जांच का प्रतिवेदन बनाकर कलेक्टर एवं जिला पंचायत को भेज दिए जाएंगे। उपसरपंच ने कहा कि प्राइवेट चिकित्सकों की डिग्री की जांच के बाद यदि कोई डॉक्टर झोलाछाप की श्रेणी में आते हैं तो उनके विरुद्ध कलेक्टर से उचित कार्रवाई की मांग की जाएगी।
सारंगबिहरी. ग्राम में मंगलवार को को मोहखेड़ बीएमओ केएस बजाज ने झोलाछाप डाक्टरों के के खिलाफ कार्रवाई की। इस दौरान उन्होंने निजी चिकित्सकों के डिग्री और दस्तावेजों के सम्बंध में जानकारी ली। कुछ चिकित्सकों के बाद दस्तावे नहीं मिले उन्हें क्लीनिक बंद करने कहा गया। जब पूछा गया तो उनके पास किसी भी प्रकार की डिग्री नहीं मिली और तुरंत ही उन्हें अपनि दुकान बंद करने के लिए कहा गया।
ये भी पढ़ें
स्टेट हाईवे से गांवों में सड़क स्वीकृत
चौरई. चौरई क्षेत्र के विधायक पं. रमेश दुबे के किए प्रयासों के फलस्वरूप चौरई विधानसभा के बिछुआ विकासखंड में ग्राम सुरंगी से गुम्मच खमरिया होते हुए जाखावाड़ी, रामाकोना मार्ग से ग्राम गुलसी तक, स्टेट हाईवे से ग्राम धौलपुर के लिए शासन द्वारा प्रधानमंत्री सड़क स्वीकृत की गई है। इसके अतिरिक्त ग्राम डोला पांजरा से थोटामाल होते हुए पाथरी सड़क का पुनर्निर्माण कराने की स्वीकृति प्रदान की गई है। विधायक कार्यालय से मिली जानकारी अनुसार इन कार्यों के जल्द ही टेंडर होकर सड़कों का निर्माण कार्य प्रारंभ हो जाएगा। तीन माह पूर्व विधायक दुबे जब ग्राम गुलसी पहुंचे थे उस समय गुलसी के ग्रामवासियों के द्वारा प्रमुख रूप से एक ही मांग की गई थी कि हमारे ग्राम को भी पक्की सड़क से जोड़ा जाए। पक्की सड़कों के निर्माण से जहां आवागमन की सुविधा मिलेगी वहीं विकास कार्य भी गतिमान हो सकेंगे ।

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned