आबकारी ने जब्त की अस्सी हजार की शराब

prashant sahare

Publish: Oct, 13 2017 05:23:05 (IST)

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
आबकारी ने जब्त की अस्सी हजार की शराब

आबकारी अमले को शराब के तस्करों पर शिकंजा कसने में लगातार सफलता मिल रही।

छिंदवाड़ा .आबकारी अमले को शराब के तस्करों पर शिकंजा कसने में लगातार सफलता मिल रही। बुधवार की रात तीन अलग-अलग मामलों में आबकारी अमले ने एक लग्जरी कार और दो बाइक से 80 हजार रुपए की 21 पेटी 189 लीटर देशी-विदेशी शराब जब्त की है। जब्त वाहनों की कीमत लगभग साढ़े छह लाख रुपए आंकी जा रही है।


डीईओ दीपम रायचुरा ने बताया कि चौरई वृत्त के आबकारी अमले ने बुधवार की रात हरनाखेड़ी से चांद रोड पर कार्रवाई को अंजाम दिया। बाइक क्रमांक एमपी 28 एमपी 7379 से लक्ष्मण सानिया शराब लेकर जा रहा था। आरोपी के कब्जे से एक पेटी शराब जब्त कर उसके खिलाफ आबकारी अधिनियम की धारा में प्रकरण दर्ज किया है।

 

चांद से परसगांव के बीच बिना नम्बर की बाइक पर सवार हरनाखेड़ी निवासी योगेश चौरसिया और गुमतरा निवासी इंद्रजीत रघुवंशी एक थैले और प्लास्टिक की बोरी में शराब ढो रहे थे। दोनों से एक पेटी जिप्सी और पांच पेटी देशी शराब जब्त की गई। जब्त की गई कुछ शराब बैतूल जिले की निकली। जब्त की गई शराब 54 लीटर होने के कारण दोनों आरोपियों के खिलाफ गैरजमानती धारा में अपराध कायम किया।


लग्जरी कार में मिली शराब
बुधवार देर रात परासिया वृत्त का आबकारी अमला खिऱसाडोह के पास शराब तस्करों पर शिकंजा कसने तैनात था। लग्जरी कार क्रमांक एमपी 28 बीडी 2932 को घेराबंदी कर पकड़ा। तलाश करने पर कार से 8 पेटी जिप्सी 5 पेटी प्लेन और 1 पेटी नंबर १ शराब मिली। जब्त की गई शराब 126 लीटर होने के कारण वाहन में सवार रावनवाड़ा निवासी बब्लू राजपूत, अमरवाड़ा निवासी दीपक डेहरिया और नागेंद्र राजपूत के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है। चांदमें पकड़े गए शराब तस्करों ने पूछताछ में बताया कि वे बिछुआ स्थित विराट ढाबा से शराब ला रहे थे। तस्करों ने बताया कि ढाबा संचालक पवन सूर्यवंशी ने उन्हें शराब दी थी। इस मामले में जल्द ढाबा संचालक से भी पूछताछ की जाएगी।

आरोपी को न्यायालय में किया पेश
छिंदवाड़ा . चांद थाना में करीब एक माह पहले दर्ज हुए सूदखोरी के प्रकरण का आरोपी गिरफ्तार हो चुका है। गुरुवार आरोपी को चौरई न्यायालय में पेश किया गया। टीआई शशि विश्वकर्मा ने बताया कि थाना क्षेत्र के ग्राम भाजेपानी निवासी ज्ञानचंद वानखेड़े ने एक माह पहले रिपोर्ट दर्ज कराई थी, कि सोनारी मोहगांव निवासी श्रीरामसिंह रघुवंशी से उसने लगभग बीस साल पहले रुपए लिए थे। अभी तक वह ७ लाख रुपए ब्याज दे चुका है इसके बाद भी श्रीरामसिंह रघुवंशी उसे ८ लाख रुपए बकाया होने की बात कह
रहा है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned