suicide: आर्थिक स्थिति गड़बड़ाने से किसान आत्महत्या को मजबूर

हिवरा सेनडवार के किसान दुर्गादास पिता जगन्नाथ देशमुख की आत्महत्या के बाद गांव के किसानों ने प्रशासन को एक बार फिर अतिवृष्टि से फसलों के नुकसान के मुआवजे की याद दिलाई है।

By: Sanjay Kumar Dandale

Published: 13 Oct 2021, 07:07 PM IST

छिंदवाड़ा/पांढुर्ना. हिवरा सेनडवार के किसान दुर्गादास पिता जगन्नाथ देशमुख की आत्महत्या के बाद गांव के किसानों ने प्रशासन को एक बार फिर अतिवृष्टि से फसलों के नुकसान के मुआवजे की याद दिलाई है। किसानों का कहना है कि दुर्गादास की पहली फसल खराब हो गई थी । दूसरी फसल अच्छी थीए लेकिन फसल पर खर्च के लिए रुपए नहीं होने से वह तनाव में था। यही हाल गांव के अन्य किसानों का भी है हरेंद्र टोपलेए चिरकुट चोपडए देवीलाल पराडकरए बिनदेश बोबाटकर व अन्य किसानों ने बताया कि अभी भी कुछ किसानों के पास दूसरी फसल बोने के लिए रुपए नहीं हैं।
खेतों में खराब फसले पड़ी है। कुछ ने रोटावेटर चलाकर खेत साफ कर दिया है । किसानों ने प्रशासन से सर्वे की मांग करते हुए उचित मुआवजा प्रदान करने की मांग की है। किसान दुर्गादास की मौत के मामले में बुधवार को जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष विश्वनाथ ओकटे ने विधायक नीलेश उईके और सौसर विधायक विजय चौरे के साथ पीडि़त परिवार के यहां पहुँचकर सांत्वना प्रदान की स इसके बाद एसडीएम कार्यालय पहुच कर ज्ञापन सौंपा स ज्ञापन में मृतक किसान की पत्नी को शासन से सहायता राशि देने और मृतक किसान की पत्नी को आंगनवाड़ी में नोकरी देने की मांग की है।

Show More
Sanjay Kumar Dandale
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned