कोल स्टॉक में लगी आग पर पाया काबू

पेंच क्षेत्र के बडक़ुही इकलेहरा ओपन कास्ट कोयला खदान से कोयला परिवहन शुरू हो गया है। यहां पर कोयले के ढेर पर लगी आग पर काबू पा लिया गया है।

By: Sanjay Kumar Dandale

Published: 25 Sep 2021, 08:04 PM IST

छिंदवाड़ा/परासिया. पेंच क्षेत्र के बडक़ुही इकलेहरा ओपन कास्ट कोयला खदान से कोयला परिवहन शुरू हो गया है। यहां पर कोयले के ढेर पर लगी आग पर काबू पा लिया गया है। गौरतलब है कि तीन जुलाई को इकलेहरा बडक़ुही ओपन कास्ट खदान को बंद कर दिया गया है। लेकिन यहां पर लगभग 50 हजार टन से अधिक कोयला स्टॉक में था जिसे सारणी थर्मल पावर स्टेशन और रोड सेल के माध्यम से निजी कंपनियों को भेजा जाना था। लेकिन कोल स्टॉक में आग लगने के कारण कोयला परिवहन रुक गया था। लगभग डेढ़ करोड़ रुपए मूल्य के कोयला के जलकर नष्ट होने का अंदेशा बना हुआ था। पिछले 2 माह से अधिक समय से कोयला स्टॉक में आग लगी हुई थी। जिसे बुझाने के लिए प्रबंधन के प्रयास नाकाफी सिद्ध हुए। लेकिन भारी बारिश ने प्रबंधन का काम आसान कर दिया और कोयले में लगी आग काफी हद तक बुझ चुकी है इसलिए प्रबंधन ने कोयला परिवहन करने का निर्णय लिया है। यहां से वर्तमान में सारणी स्थित सतपुड़ा थर्मल पावर स्टेशन को लगभग 700 से 800 टन कोयला प्रतिदिन ट्रकों के माध्यम से बीजी साइडिंग और यहां से रेलवे रैक के माध्यम से सारणी भेजा जा रहा है। ज्ञात हो कि कोयला परिवहन को लेकर ठेकेदार और प्रबंधन के बीच तल्खी बनी हुई थी। जहां ठेकेदार कोल यार्ड तक खराब सडक़ होने की बात कहकर कोयला परिवहन से मना कर दिया था। इसके बाद प्रबंधन ने कोयला परिवहन के लिए अलग से कच्चा रास्ता बनाया जिसके बाद कोयला परिवहन शुरू हो गया है।

Sanjay Kumar Dandale
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned