आग ने मचाया तांडव...

परासिया की फायर बिग्रेड ने वन कर्मियों की सहायता से आग पर काबू पाया।

By: arun garhewal

Published: 25 Apr 2018, 05:34 PM IST

छिंदवाड़ा. परासिया. छिंदवाड़ा मुख्य मार्ग पर खिरसाडोह के समीप जंगल में आग लगने से खिरसाडोह एवं कोसमी के मध्य लगभग एक घंटे तक यातायात बाधित रहा। हवा चलने से पूरी सड़क पर धुआं छा गया जिसके कारण वाहनों को निकालने में दिक्कते आई। आग लगने से जंगल की झाडिय़ा और छोटे पेड़ पौधों को नुकसान पहुंचा है। सूचना मिलने पर नगर परिषद बडकुही तथा नगर पालिका परासिया की फायर बिग्रेड ने वन कर्मियों की सहायता से आग पर काबू पाया।

हर्रई... ग्राम पटी के समीप राजस्व क्षेत्र में लगी आग को डिप्टी रेंजर वीएस मिश्रा और वन रोहित रक्षक ने सूझबूझ का परिचय देते बुझाया। गांव की ओर बढ़ रही इस आग को बुझाने में ग्रामीणों ने भी सहयोग किया।

मोटर वाइंडिंग की दुकान में लगी आग
पांढुर्ना. नगर के पंचशील चौक पर स्थित कॉम्प्लैक्स में मोटरवाइंडिग करने वाले मारुति गोमकाले की दुकान पर मंगलवार सुबह अचानक आग लग गई। दुकान से धुआं उठते हुए सबसे पहले गैस एजेंसी के संचालक निलेश राठी ने देखा और फौरन फायर ब्रिगेड और विद्युत कार्यालय को लाइन बंद करने के लिए सूचना दी। फायर ब्रिगेड ने जल्द ही आग पर काबू पाया लिया। द ुकान के अंदर कबाड़ आदि भरा हुआ था।

ये भी पढ़े...
दरबार की दानपेटी चुरा ले गए चोर
बड़चिचोली. ग्राम बड़चिचोली में ग्राम में हजरत ख्वाजा शेख शेख फरीद गंजे शंकर दरबार में निर्माण कार्य के लिए दान पेटी रखी गई थी।
प्रति दिन की तरह रात में दान पेटी सामुदायिक भवन में रखी गई थी। सोमवार की रात अज्ञात चोरों ने यहां रखी दान पेटी चोरी कर समीप ही खेत ले जाकर पेटियों को तोड़कर लगभग ५ हजार रुपए चोरी कर लिए गए। चोरों ने दानपेटी तोड़कर खेत में ही छोड़ दिया। मंगलवार की सुबह दरबार कमेटी के सदस्य जब सामुदायिक भवन पहुंचे तो गेट का ताला खुला हुआ था। तब कमेटी के सदस्यों ने इधर-उधर तलाशना शुरू किया दानपेटी खेत में पड़ी थी।

विजिलेंस टीम ने की कोयला स्टाक की जांच
परासिया.कोयला संबंधी गड़बडिय़ों की शिकायत के बाद मंगलवार को नागपुर मुख्यालय की विजिलेंस टीम ने पेंच क्षेत्र की नेहरिया और विष्णुपुरी खदान में जांच की। बताया जाता है कि कोयला उत्पादन एवं उसके डिस्पैच संबंधी अंतर की शिकायत की गई है। चार सदस्यीय टीम ने दोनों खदानों में जाकर कोयले का उत्पादन, प्रेषण एवं स्टाक को लेकर जांच की। अधिकारियों ने खान प्रबंधन से कोयले से संबंधित सभी आवश्यक दस्तावेजों का निरीक्षण किया। विजिलेंस टीम की पेंच क्षेत्र में मौजूदगी से अधिकारियों के बीच अफरातफरी रही। अधिकारियों के साथ उप महाप्रबंधक पेंच एमसी सिन्हा, नरेन्द्र सिंह एवं सर्वे अधिकारी भी थे।

arun garhewal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned