सूखे कुएं से लगातार आ रही थी डरावनी आवाजें, देखा तो निकले 'कबरबिज्जू'

वन विभाग ने निकाला बाहर

By: Ashtha Awasthi

Published: 24 Nov 2020, 06:07 PM IST

छिंदवाड़ा। शहर के पूर्व वनमंडल वनपरिक्षेत्र अंतर्गत ग्राम करेर से विलुप्त होती प्रजाति के दो वन्यप्राणी को रेस्क्यू कर बचाया गया है। तीन घण्टे तक गांव वालों की मदद से कुएं में रेस्क्यू किया। कॉफी मशक्कत के बाद फॉरेस्ट विभाग को सफलता हाथ लगी।

वन विभाग ने निकाला बाहर

किसान सहसराम के कुएं में जंगल से भटक कर पहुंचा विशेष जंगली कबरबिज्जू का जोड़ा सूखे कुएं में गिर गया। सूचना पाकर पहुंची वन विभाग की टीम ने 3 घंटे की मशक्कत के बाद निकाला। जानकारी के मुताबिक किसान के खेत में कुएं की खुदाई चल रही है। सुबह जब मजदूर पहुंचे तो कुएं के अंदर दो जंगली कबरबिज्जू दिखाई दिए। सूचना मिलते ही पहुंचे मजदूरों और ग्रामीणों ने इसकी सूचना वन विभाग के कर्मचारियों और अधिकारियों को दी, सूचना के तत्काल बाद वन विभाग अमला मौके पर पहुंचा।

20161011112107.jpg

जाल में फंसाकर निकाला बाहर

बताया जा रहा है कि सूखे कुएं में लगातार अजीब-अजीब सी आवाजें आ रही थी। जब ध्यान से देखा गया तो पता चला कि उसमें कबरबिज्जू गिरे हुए थे। उस कुएं की गहराई लगभग 15-16 फिट है। वन अमले ने ग्रामीणों के सहयोग से कुंए में मच्छरदानी डालकर उसे रस्सियों के जाल में फंसाकर बाहर निकाला। कुएं से निकालने के बाद दोपहर कबरबिज्जू को वन विभाग द्वारा जंगल में छोड़ दिया गया। इस दौरान करेर बीट प्रभारी मनीराम खेलवाडी, वन सुरक्षाकर्मी गोविंद पवार समेत ग्रामीणजन मौजूद रहे।

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned