उपचार के दौरान चार की मौत...अब तक 83 ने तोड़ा दम, जानें वजह

- नगर निगम अमले ने छह शवों को किया अंतिम संस्कार

By: Dinesh Sahu

Published: 19 Sep 2020, 12:55 PM IST

छिंदवाड़ा/ छिंदवाड़ा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस से सम्बद्ध जिला अस्पताल में शुक्रवार को चार मरीजों ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। मरने वालों में सिवनी और छिंदवाड़ा जिले के निवासी बताए जाते है तथा मृतकों में दो मरीजों को कोविड-19 संदिग्ध बताया गया है। वहीं नगर निगम अमले ने गुरुवार और शुक्रवार दो दिन में हुई छह मरीजों की मौत होने पर सभी का कोरोना प्रोटोकाल के तहत अंतिम संस्कार किया गया है।

वहीं कोरोना संक्रमण की वजह से जिले में मरने वालों की संख्या 83 पहुंच गई है, पर प्रशासनिक रिकार्ड में 17 को ही शामिल किया गया है। स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम से मिली जानकारी के अनुसार मृतकों में शुक्रवार को हुई मौत में जिला सिवनी निवासी 52 वर्षीय तथा बारापत्थर निवासी 59 वर्षीय दो मरीज है। इसी तरह छिंदवाड़ा के गोलगंज निवासी 79 वर्षीय महिला तथा परासिया निवासी 56 वर्षीय पुरुष बताए जाते है।


26 संक्रमित हुए स्वस्थ तो 38 और मिल गए

कोरोना वायरस संक्रमण का कहर जिले में लगातार जारी है, जिसके चलते प्रतिदिन नवीन पॉजिटिव केस सामने आ रहे है। हालांकि संक्रमितों के स्वस्थ होने से राहत भी मिल रही है। शुक्रवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय से जारी मीडिया बुलेटिन के अनुसार जिले में कुल में 879 पॉजिटिव मिले, जबकि गुरुवार को यह आंकड़ा 841 था। इसके चलते 38 नवीन पॉजिटिव मरीज मिलना सामने आया है।

वहीं जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती 26 कोविड संक्रमितों ने वायरस पर जीत दर्ज की है, जिसके चलते उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है। बताया जाता है कि संक्रमितों में छिंदवाड़ा, परासिया, मोहखेड़, हर्रई, तामिया तथा जुन्नारदेव के मरीज शामिल है।


850 जांच लंबित -


सीएमएचओ डॉ. जीसी चौरसिया ने बताया कि अब तक कोविड-19 की जांच के लिए भेजे गए 22 हजार 55 स्वाव सेम्पलों में से 20 हजार 84 नेगेटिव आए है तथा 850 की जांच लंबित तो 687 सेम्पल रिजेक्ट किए गए है। वहीं अब तक 567 संक्रमित स्वस्थ हुए है।

COVID-19
Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned