मनचले ने युवती का किया पीछा तो जाना पड़ा जेल

न्यायालय में गुरुवार को तीन मामलों पर सुनाई हुई। सभी न्यायालय के न्यायाधीश ने अभियोजन और बचाव पक्ष की दलील सुनने के बाद फैसला सुनाया।

By: babanrao pathe

Published: 20 Jul 2018, 11:37 AM IST

छिंदवाड़ा. न्यायालय में गुरुवार को तीन मामलों पर सुनाई हुई। सभी न्यायालय के न्यायाधीश ने अभियोजन और बचाव पक्ष की दलील सुनने के बाद फैसला सुनाया। एक प्रकरण में युवती से छेड़छाड़ कर उसका पीछा करने वाले को जेल भेजने के आदेश दिए। गोवंश की तस्करी में लिप्त आरोपी का जमानत आवेदन निरस्त कर न्यायायिक हिरासत में भेजने के आदेश दिए। शराब तस्कर को दो माह के कठोर कारावास एवं अर्थदंड से दंडित किया।

लोधीखेड़ा थाना क्षेत्र में रहने वाली एक युवती सुबह नौ बजे पूजा का सामान लेने बाजार गई थी। बाजार से लौट रही थी कि तभी रास्ते में आरोपित राहुल काले निवासी पारडसिंगा ने बुरी नियत से उसका पीछा करते हुए हाथ पकड़ लिया। किसी तरह हाथ छुड़ाकर युवती घर आई। दोपहर एक बजे राहुल काले युवती के घर पहुंच गया। सारी बात अपने माता-पिता को बताई। परिजन के साथ पुलिस थाना आरोपी की शिकायत की। पुलिस ने उसके खिलाफ छेड़छाड़ सहित अन्य धारा में अपराध दर्ज किया। आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी आशीष दवनडे के समक्ष प्रस्तुत किया। आरोपी की ओर से जमानत आवेदन पत्र प्रस्तुत कर जमानत की मांग की गई । विरोध धर्मेश शर्मा सहायक जिला अभियोजन अधिकारी ने किया। आरोपित की जमानत खारिज कर न्यायालय ने उसे जेल भेज दिया।

लोधीखेड़ा थाना पुलिस ने 15 जुलाई 2018 को ट्रक क्रमांक सीजी ०७ ई 6100 से गोवंश मुक्त कराए थे। पुलिस ने भीलपार फॉरेस्ट बैरियर रोड पर नाकाबंदी कर ट्रक को पकड़ा था। मौके से आरोपित अतीक अहमद उर्फ मक्खन को गिरफ्तार किया।
ट्रक की तलाशी लेने पर उसमें 27 नग गोवंश मिले थे। पुलिस ने पकड़े गए आरोपी और उसके साथियों के खिलाफ प्रकरण पंजीबद्ध किया। गिरफ्तार आरोपित को न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी सौंसर जयदीप सोनवर्से के समक्ष प्रस्तुत किया। आरोपी की ओर से गुरुवार को जमानत के लिए आवेदन पत्र प्रस्तुत किया गया। प्रकरण की गम्भीरता को देखते हुए अभियोजन अधिकारी धर्मेश शर्मा ने जमानत का विरोध किया। दोनों पक्षों की सुनवाई के बाद न्यायालय ने जमानत आवेदन पत्र निरस्त कर आरोपित को न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया।

चौरई थाना क्षेत्र के ग्राम भुतेरा निवासी काशीराम कहार को दूसरी बार शराब बेचने पर दो माह का कठोर कारावास और दो हजार रुपए के अर्थदंड की सजा हुई। 24 जून २०18 को आरोपी काशीराम प्लास्टिक की कुप्पी में शराब बेचने लेकर गया था। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने आरोपी के घर के पीछे से अवैध शराब जब्त कर बेचने के सम्बंध में दस्तावेज मांगे तो नहीं दिए। आरोपी को पूर्व में भी न्यायालय ने शराब रखने के सम्बंध में अर्थ दंड से दंडित किया था। प्रकरण में शासन की ओर से प्रवीण कुमार मर्सकोले सहायक जिला अभियोजन अधिकारी ने पैरवी की।

babanrao pathe Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned