स्कूल ने निकाला ऐसा आदेश कि अतिथि शिक्षक असमंजस में

अध्यापन कार्य का अगर वेतन नहीं मिलता है तो उसके जिम्मेदार स्वयं शिक्षक होंगे। शाला इसके लिए जिम्मेदार नहीं होगी। ऐसा स्टाम्प पर लिखा कर अतिथि शिक्षकों को देना है

By: Sanjay Kumar Dandale

Published: 19 Jan 2019, 05:58 PM IST

अमरवाड़ा . अमरवाड़ा विधानसभा क्षेत्र के शासकीय हाई सेकंडरी स्कूल, हाई स्कूल में अतिथि शिक्षकों के रिक्त पड़े पदों को भरने के लिए दिसंबर में ऑफ लाइन भर्ती कर एक जनवरी से नियुक्ति दी गई लेकिन ऑफलाइन नियुक्त किए गए अतिथि शिक्षक जिस चयनित संस्था पर अध्यापन कार्य कराया जा रहा है उस संस्थाओं के प्राचार्य ने सभी ऑफलाइन भर्ती किए अतिथि शिक्षकों से स्टाम्प पर शपथ पत्र लिखा रहे है। जिसमें आपके द्वारा कराए गए अध्यापन कार्य का अगर वेतन नहीं मिलता है तो उसके जिम्मेदार स्वयं शिक्षक होंगे। शाला इसके लिए जिम्मेदार नहीं होगी। ऐसा स्टाम्प पर लिखा कर अतिथि शिक्षकों को अपनी फाइल में देना है
सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार पोर्टल पर उक्त स्कूलों की रिक्त पदों की जानकारी प्रदर्शित नहीं हो रही है जिसके कारण ऑफ लाइन भर्ती कर स्कूलों में रिक्त पड़े पदों पर भर्ती की गई लेकिन पोर्टल पर प्रदर्शित नहीं होने के कारण प्राचार्य का कहना है वेतन में दिक्कत आ सकती है इस कारण से स्कूल अपने बचाव के लिए सभी अतिथि शिक्षकों से स्टाम्प पेपर पर लिख कर मांग रहे है।
22 जनवरी तक पोर्टल में अतिथि शिक्षकों की जानकारी अपडेट करने की तिथि है पोर्टल को सही तरीके से अपडेट नहीं करने के कारण पोर्टल खाली पड़े पदों की जानकारी नहीं दे पा रहा है जबकि वास्तव में स्कूलों में पद खाली हैं।
पद पूर्ति के लिए संबंधित प्राचार्य ऑफलाइन भर्ती कर शिक्षकों की नियुक्ति की है लेकिन अब स्टाम्प मैं लिख कर देने वाली स्थिति में अतिथि शिक्षकों में वेतन को लेकर संशय बरकरार है।

Sanjay Kumar Dandale
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned