अतिथि शिक्षकों ने की नियमितीकरण की मांग

वरिष्ठता के आधार पर रखा जाये ताकि अतिथि शिक्षक

By: sunil lakhera

Updated: 02 Jun 2020, 05:49 PM IST

परासिया. अतिथि शिक्षक संघ ने नियमित रूप से मानदेय प्रदान करने तथा नियमितीकरण की मांग की है। इस संबंध में सोमवार को संघ ने विधायक सोहनलाल बाल्मिक से चर्चा की।
विधायक ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर कहा है कि मध्यप्रदेश के समस्त शासकीय विद्यालयों में लगभग 70 हजार अतिथि शिक्षक विगत बारह वर्षों से बहुत ही कम मानदेय पर विद्यालय में सेवा दे रहे है एवं लम्बे समय से नियमितीकरण की मांग कर रहे है। अतिथि शिक्षको को प्रतिवर्ष जुलाई-अगस्त माह में ज्वाइनिंग देकर अप्रैल में हटा दिया जाता है ताकि नियमित नहीं हो सके। उन्होंने पत्र में कहा है कि शिक्षक पात्रता की मापदण्डों को पूरा करने वाले अतिथि शिक्षकों को नियमित किया जाए। कार्यकाल माह जून 2020 तक बढ़ाकर मानदेय दिया जायें। अन्य प्रदेश की तरह ही अतिथि शिक्षकों के हित की नीति बनाई जाए। पांच सत्र 600 कार्यदिवस पूर्ण करने वाले समस्त अतिथि शिक्षकों को वर्तमान मानदेय पर 4 सत्र के लिए यथावत रखा जाए। एक वर्ष से लेकर 4 वर्ष तक सेवा देने वाले अतिथि शिक्षकों को प्रतिवर्ष 10 अंक अनुभव का लाभ देकर वरिष्ठता के आधार पर रखा जाये ताकि अतिथि शिक्षक बेरोजगार न हो।

sunil lakhera
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned