ट्रॉली में खराब हुई फसल लेकर पहुंचे किसान

rajendra sharma

Publish: Feb, 15 2018 06:30:02 PM (IST) | Updated: Feb, 15 2018 07:52:19 PM (IST)

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
ट्रॉली में खराब हुई फसल लेकर पहुंचे किसान

मूसलाधार बारिश के साथ ओलावृष्टि से फसल चौपट हो गई है

छिंदवाड़ा/अमरवाड़ा. नगर सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्र में मूसलाधार बारिश के साथ ओलावृष्टि से फसल चौपट हो गई है। प्राकृतिक आपदा से किसान टूट गए हंै।
करबडोल, जुगावानी, सेजा, बारहहीवाड़ा, महुआ खेड़ा, बमोहरी, बमोरी माल के किसानों की खड़ी फसल गेहूं, मसूर, चना, टमाटर, आलू ओलावृष्टि के कारण खराब हो गई है। कई किसानों की तो पूरी फसल बैठ गई। घरों के छप्पर, दीवारें गिर गईं हैं। पेड़ गिरने से शौचालय नष्ट हो गए हैं। ओला प्रभावित किसान फसल और ओला ट्रैक्टर-टॉली मेंं भरकर अमरवाड़ा तहसील कार्यालय पहुंचे और प्रदर्शन किया। करबढोल के ग्रामीणों ने स्थानीय तहसील और पटवारी कार्यालय में आकर शिकायत दर्ज कराई।

भारी मात्रा में हुई है तबाही

ओलावृष्टि के कारण किसान सुरेश वर्मा की 10 एकड़ की फसल चौपट हो गई। सिया बाई रामनरेश की दो एकड़ में लगी गेहूं की बाली झड़ गई है। देवी प्रसाद दयाराम की मसूर की सात एकड़ की फसल खराब हो गई है। मुकेश, झाड़ू लाल, ममता बाई, दयाराम, मदन, लक्ष्मी बाई, जीतलाल की फसल भी खराब हुई है।

घरों के छप्पर उड़े

आंधी-बारिश से तुलसीराम वर्मा का छप्पर उड़ गया। सनीराम, मनवा, मदन की सीमेंट की सीट टूट गई। मदन वर्मा, बिहारी वर्मा, कौशल्या, हरिओम करोल निवासियों के मकान की दीवार टूट गईं हैं। पप्पू भारती, अमरु भारती के झाड़ गिरने से शौचालय टूट गया। कोडरा में लोधी राजकुमार पटेल, गोपाल वर्मा, मुकेश वर्मा, सुनील, दुर्गा, काशीराम, अशोक की फसलें भी ओलावृष्टि के कारण प्रभावित हुई हैं।

एसडीएम ने किया फसल का निरीक्षण

छिंदवाड़ा एसडीएम राजेश शाही ने अमरवाड़ा क्षेत्र के गांवों की फसल का निरीक्षण किया। ग्राम लछुवा, मन्नानगढ़, नन्दौरा, खजिया, नन्दोरी, ढोढाकुई, सोनपुर, लुक्काढाना, भुडक़ुमढाना, पथरकटी, पुरतला, सेजवाडा़, सेजा, करबडोल एवं बम्होरी आदि ग्रामों में लगी गेहं, मटर और मसूर की फसल में कहीं-कहीं ओले से क्षति हुई है। कहीं यह क्षति 33 प्रतिशत से अधिक है। कोई भी गांव ऐसा नहीं है जहां सभी खेत प्रभावित हुए हों। इस दौरान ग्राम सेजा में कुछ ग्रामीण एसडीएम से मिले और फसल क्षति से बैंक कर्ज के बारे में चिंता व्यक्त की। इस पर एसडीएम ने उन्हें आश्वस्त किया।

छिंदवाड़ा तहसील के एक गांव में नुकसान

छिंदवाड़ा तहसील के ग्राम जैतपुरकलां में आेलावृष्टि से गेहूं की फसल को नुकसान हुआ है। प्रभारी तहसीलदार पूर्णिमा भगत ने इस गांव समेत आसपास के इलाके का जायजा लिया। उन्होंने बताया कि जैतपुरकलां में २५ से ३० फीसदी फसल ओले की चपेट में आई है। शेष गांवों में कहीं-कहीं हवा से फसल बिछ गई है जिसे नुकसान की श्रेणी में नहीं माना जा सकता।

संयुक्त दल करेंगे सर्वे

कलेक्टर ने बुधवार सुबह राजस्व और कृषि अधिकारियों की बैठक ली और उन्हें ओलावृष्टि प्रभावित गांवों में राजस्व, कृषि और पंचायत के संयुक्त दल से सर्वेक्षण कराने के लिए निर्देशित किया।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned