Higher Education: गल्र्स कॉलेज में छात्राओं ने याद किया काली रात का वो मंजर

छात्राओं ने ब्रांड एम्बेसडर की भूमिका का निर्वहन किया।

By: ashish mishra

Updated: 03 Dec 2019, 12:01 PM IST


छिंदवाड़ा. राजमाता सिंधिया गल्र्स कॉलेज में सोमवार को प्राचार्य डॉ. कामना वर्मा के निर्देशन में राष्ट्रीय हरित कोर ईको क्लब द्वारा राष्ट्रीय प्रदूषण निवारण व नियंत्रण दिवस का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में छात्राओं ने ब्रांड एम्बेसडर की भूमिका का निर्वहन किया। छात्राओं ने अपने वक्तव्य के माध्यम से 2 दिसंबर 1984 की उस काली रात के मंजर को याद कर पीडि़त लोगों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की। भविष्य में ऐसी घटना न हो इसके प्रति सजगता जाहिर की एवं पर्यावरण को बचाने के लिए संकल्पित हुई। दिवस पर छात्राओं ने चित्रों के माध्यम से अभिव्यक्ति भी प्रस्तुत की। इको क्लब प्रभारी डॉ. नीलिमा बागड़े ने इको क्लब के महत्व एवं पर्यावरण में बढ़ रहे प्रदूषण एवं उसके निवारण हेतु राष्ट्रीय नियंत्रण बोर्ड द्वारा बनाए गए नियमों पर प्रकाश डाला। इसी कड़ी में रसायन शास्त्र विभागाध्यक्ष डॉ. आरके जैन ने यूनियन कार्बाइड केमिकल प्लांट से रिसने वाली विषैली गैस एमआईसी मेथिल आइसो साइनेट के बारे में विस्तृत जानकारी दी एवं औद्योगिक रसायनों के दुष्प्रभाव से पृथ्वी को बचाने का आव्हान किया। कार्यक्रम में डॉ. उमा पंडया, डॉ. पंकज पाठक ने जल, वायु, ध्वनी प्रदूषण के दुष्प्रभाव बताए। अध्यक्षीय उद्बोधन में प्राचार्य डॉ. कामना वर्मा ने छात्राओं से अपने परिसर की स्वच्छता व पर्यावरण संरक्षण के लिए प्रेरित किया। अंत में छात्राओं को चित्रकला एवं निबंध प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय, तृतीय स्थान एवं सांत्वना प्राप्त छात्राओं को पुरस्कृत किया गया।

Patrika
ashish mishra Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned