Higher Education: चार जिलों के 120 कॉलेजों के विद्यार्थियों को फीस में मिलेगी बड़ी राहत, कुलपति ने लिया निर्णय

Higher Education: चार जिलों के 120 कॉलेजों के विद्यार्थियों को फीस में मिलेगी बड़ी राहत, कुलपति ने लिया निर्णय
जानिए क्यों..? यहां ठप्प हो गई विद्यार्थियों की पढ़ाई

Ashish Kumar Mishra | Updated: 12 Oct 2019, 11:50:02 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

विभिन्न बिन्दुओं पर चर्चा कर सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया।

छिंदवाड़ा. जिले में खुले छिंदवाड़ा विश्वविद्यालय में गुरुवार को कुलपति एमके श्रीवास्तव की अध्यक्षता में पीजी कॉलेज परिसर स्थित कार्यालय में बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में सिवनी, बालाघाट, छिंदवाड़ा एवं बैतूल जिले के लीड कॉलेज प्राचार्य, कुलसचिव डॉ. वरदमूर्ति मिश्रा, पीजी कॉलेज एवं गल्र्स कॉलेज प्राचार्य शामिल हुए। बैठक में नामांकन, संबद्धता शुल्क, फीस सहित विभिन्न बिन्दुओं पर चर्चा कर सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया। कुलपति ने बताया कि विद्यार्थियों के हित को ध्यान में रखते हुए फीस का निर्धारण किया गया है। जिससे विद्यार्थियों को काफी राहत मिलेगी। इसके अलावा बैठक में अध्ययन मंडल के विषय विशेषज्ञों के नाम फाइनल किए गए। संबद्धता शुल्क एवं अन्य बिन्दुओं पर निर्णय लिया गया। कुलपति ने बताया कि प्रयास किया जा रहा है कि सारी प्रक्रिया एमपी ऑनलाइन के माध्यम से पूर्ण कराई जाए।

नवप्रवेशित छात्रों का ही होगा नामांकन
छिंदवाड़ा विश्वविद्यालय में चारों जिलों के 120 कॉलेज में सत्र 2019-20 में स्नातक प्रथम वर्ष एवं स्नातकोत्तर प्रथम सेमेस्टर में नवप्रेशित विद्यार्थियों का ही नामांकन किया जाएगा। गौरतलब है कि कॉलेजों ने सभी विद्यार्थियों के नामांकन छिंदवाड़ा विश्वविद्यालय में करने की इच्छा जताई थी, बैठक में इस बिन्दु पर सभी की सहमति नहीं बन पाई।

खेल और युवा उत्सव का भी होगा आयोजन
बैठक में कॉलेज प्राचार्यों ने खेल और युवा उत्सव को लेकर भी अपनी बात रखी। जिस पर कुलपति ने कहा कि अगर रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय एवं बरकतुल्ला विश्वविद्यालय विद्यार्थियों को मौका नहीं देते हैं तो हम छिंदवाड़ा विश्वविद्यालय में ही सारी गतिविधियां कराएंगे। विद्यार्थियों के हित में जो जरूरी रहेगा उस पर कदम उठाया जाएगा।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned