अतिथि विद्वानों का भविष्य अधर में

अतिथि विद्वानों का भविष्य अधर में
Honorarium of guest scholars will not be released

Prabha Shankar Giri | Updated: 12 Apr 2019, 11:13:30 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

कॉलेज निर्देशों का गम्भीरता से नहीं कर रहे पालन

छिंदवाड़ा. उच्च शिक्षा विभाग के निर्देशों का पालन शासकीय कॉलेज गम्भीरता से नहीं कर रहे हैं। इस पर विभाग की विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी डॉ. पूर्णिमा लोदवाल ने नाराजगी जताई है। दरअसल विभाग ने अतिथि विद्वानों के मानदेय के सम्बंध में कुछ दिन पहले शासकीय कॉलेज प्राचार्यों को निर्देश जारी किया था। इसमें कहा गया था कि कॉलेज ऑनलाइन माड्यूल में आठ अप्रैल तक मानदेय के सम्बंध में जानकारी दर्ज करें। इसके बावजूद कई कॉलेजों ने 11 अप्रैल तक जानकारी नहीं दी। इसके अलावा कई कॉलेजों द्वारा सरेंडर की गई राशि की जानकारी तो दर्ज की गई, लेकिन तिथि दर्ज करना भूल गए। विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी ने प्राचार्यों से कहा है कि ऐसा प्रतीत होता है कि कॉलेजों द्वारा इस कार्यालय के निर्देशों का पालन गम्भीरता से नहीं किया जा रहा है।

जानकारी के बाद बजट
विभाग ने कहा कि जानकारी दर्ज करने के बाद ही अतिथि विद्वानों के मानदेय के लिए बजट आवंटन किया जाएगा। विभाग ने कॉलेजों को एक और मौका देते हुए ऑनलाइन माड्यूल में 12 अप्रैल तक हर हाल में जानकारी दर्ज करने को कहा है। इसके पश्चात पोर्टल बंद कर दिया जाएगा। अगर प्राचार्यों ने जानकारी नहीं दी तो कॉलेज को बजट आवंटन नहीं किया जाएगा। इसकी जवाबदेही सम्बधित कॉलेज प्राचार्य की होगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned