House Survey: लापरवाही पर भेजे नोटिस का एजेंसी ने नहीं दिया जवाब

House Survey: नगर निगम आयुक्त फिर भेजेंगे पत्र, शहर में रुका जीआइएस सर्वेक्षण का काम

By: prabha shankar

Updated: 02 Aug 2020, 05:14 PM IST

छिंदवाड़ा/ अमृत शहर छिंदवाड़ा में सम्पत्ति कर निर्धारण के लिए जरूरी मकान सर्वेक्षण में लापरवाही करने पर नगर निगम द्वारा भेजे गए नोटिस का जवाब भोपाल की एजेंसी ने अब तक नहीं दिया है। इससे 48 वार्ड में जीआईएस सर्वेक्षण रुका हुआ है। इसे देखते हुए आयुक्त की ओर से दोबारा नोटिस भेजने की तैयारी की जा रही है।
बीती आठ जुलाई को आयुक्त हिमांशु सिंह ने सम्बंधित एजेंसी डॉ. विवेक कटारे रिमोट सेसिंग एप्लीकेशन सेंटर प्रधान ( भूमि उपयोग एवं शहरी सर्वेक्षण ) सुदूर संवेदन उपयोग मप्र विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद विज्ञान भवन नेहरू नगर भोपाल को नोटिस दिया था। इसमें कहा गया था कि अमृत योजनांतर्गत जीआइएस आधारित मास्टर प्लान पर एमपीएचएस द्वारा संपत्तिकर का निर्धारण सर्वे कार्य एजेंसी को डीपीआर लागत राशि 3.79 करोड़ रुपए की स्वीकृति प्रदान कर कार्यादेश जारी किया गया था। जीआइएस सर्वे में शहर की सीमा में स्थित परि सम्पत्तियों का जीआइएस बेस्ड डाटा ( बिल्डिंग फुट प्रिंट) वार्ड की बाउण्ड्री, परिसम्पत्तियों कैपिंग, खेत, नाले, नाली, जलप्रदाय, विद्युतीकरण की मैपिंग की जाना थी। एक करोड़ रुपए एडवांस लिए जाने के बाद भी सम्बंधित एजेंसी मेपकास्ट ने काम अधूरा छोड़ दिया हैं। इस नोटिस को जारी हुए 20 दिन से अधिक समय हो रहा है। अभी तक एजेंसी द्वारा काम शुरू नहीं किया गया है।
निगम की राजस्व शाखा के अनुसार आयुक्त की ओर से एजेंसी को दोबारा रिमाइण्डर भेजने की तैयारी कर ली गई है। लॉकडाउन खुलने के बाद उसे भेज दिया गया है। फिलहाल सर्वेक्षण कार्य रुकने से निगम को सम्पत्ति कर का नुकसान उठाना पड़ रहा है।

Show More
prabha shankar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned