Friday: शुक्रवार को बाजार में निकल रहे तो यहां से संभलकर निकलें

धीरे-धीरे आम लोगों के लिए परेशानी का सबब बनने लगा है। फुटकर दुकानों और वहां खरीदी करने के लिए पहुंचने वाले लोगों का सडक़ पर हर सप्ताह कब्जा रहता है।

By: babanrao pathe

Updated: 06 Jan 2020, 11:27 AM IST

छिंदवाड़ा. शहर का शुक्रवारी बाजार धीरे-धीरे आम लोगों के लिए परेशानी का सबब बनने लगा है। फुटकर दुकानों और वहां खरीदी करने के लिए पहुंचने वाले लोगों का सडक़ पर हर सप्ताह कब्जा रहता है। सडक़ के एक हिस्से से केवल बाइक से निकल सकती है, क्योंकि शेष जगह पर दुकानें और बाइक खड़ रहती है। तमाम पुलिस अधिकारियों के यहां से वाहन गुजरते हैं, लेकिन किसी ने अभी तक ध्यान नहीं दिया है।

फव्वारा चौक से लेकर स्टेडिम गेट के सामने तक शुक्रवार दोपहर बाद से देर रात तक चलना मुश्किल होता है। हर सप्ताह बढ़ती दुकानों की संख्या खरीदी करने वालों की भीड़ से आवाजाही मुश्किल कर दी है। सप्ताह में एक दिन लगभग हर व्यक्ति को यहां मशक्कत करनी पड़ती है। प्रेस कॉम्प्लेक्स वाले हिस्से में पूरी तह से दुकानदारों का कब्जा रहता है। जिला अस्पताल की तरफ से आने वाली एम्बुलेंस को भी निकलने के लिए जगह नहीं मिल पाती। किसी दिन यहां बड़ा हादसा होगा या फिर वाहन के जमा में फंसने के कारण परेशानी बनेगी। यातायात पुलिस ने एक बार फुटकर दुकान संचालकों को समझाइश दी इसके बाद उन्होंने भी ध्यान देना छोड़ दिया। नतीजा यह है कि हर सप्ताह दुकानें बढ़ती जा रही।

आधी सडक़ पर दुकान बाकी पर बाइक

सडक़ के आधे हिस्से में दुकान लगी रहती है और शेष बची हुई जगह में खरीदारों की बाइक होती है। सडक़ पर जगह केवल बाइक निकल सके इतनी ही बचती है। इस मार्ग से शुक्रवारी बाजार के दिन भी कई बार पुलिस अधिकारियों की आवाजाही होती है, लेकिन कोई भी कार्रवाई करने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे हैं। यही हाल रहा तो सप्ताह में एक दिन यहां से आवागमन किसी चुनौती से कम नहीं होगा। बाजार को समय रहते व्यवस्थित करने पर भी ध्यान नहीं दिया जा रहा। पिछले कुछ समय से लगातार सडक़ पर हाथठेला वाली दुकानों की संख्या बढ़ी है जिसके कारण भी कुछ स्थानों पर जाम लग रहा है।

सख्ती कार्रवाई की जाएगी

कुछ दिन पहले ही फुटकर व्यापारियों को समझाइश दी गई थी, कि दुकानें सडक़ तक न आए। मेरी जानकारी में यह मामला है, अगले सप्ताह सुबह दस बजे से ही कार्रवाई शुरू की जाएगी।

-सुदेश कुमार सिंह, डीएसपी, ट्रैफिक

Show More
babanrao pathe Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned