सड़क पर उतरकर किया प्रदर्शन

अतिथि शिक्षक ने रणनीति बनाते हुए शाला का बहिष्कार करते हुए अनिश्चितकालीन हड़ताल को लेकर प्रदेश सरकार से आर-पार की लड़ाई के लिए तैयार हो गए

By: sanjay daldale

Published: 10 Feb 2018, 06:00 PM IST

अमरवाड़ा. अतिथि शिक्षक संघर्ष समिति के आह्वान पर चल रहे संपूर्ण मध्यप्रदेश के 51 जिलों में सामूहिक हड़ताल का अमरवाड़ा ब्लॉक में भी खासा असर देखने को मिल रहा है। आज अमरवाड़ा ब्लॉक के अंबेडकर पार्क में सैकड़ों की संख्या में अतिथि शिक्षक और शिक्षिकाएं एकत्रित हुए और आगामी कार्यक्रमों की रणनीति बनाते हुए शाला का बहिष्कार करते हुए अनिश्चितकालीन हड़ताल को लेकर प्रदेश सरकार से आर-पार की लड़ाई के लिए तैयार हो गए।
ब्लॉक अतिथि शिक्षक संघर्ष समिति अमरवाड़ा ने शुक्रवार को रैली अंबेडकर पार्क से निकाली जो नगर के मुख्य मार्ग से होते हुए मेन बस स्टैंड, जनपद ऑफिस होते हुए सड़कों पर सरकार के खिलाफ नारे लगाते हुए एक स्वर में यह तय कर लिया है कि जब तक सरकार इन अतिथि शिक्षकों की मांगों को पूरा नहीं करती हैं वह अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहेंगे।
ब्लॉक अध्यक्ष सुनील विश्वकर्मा ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा अतिथि शिक्षकों की मांगों को लेकर हमेशा मांगों को दरकिनार कर दिया जाता है। जिससे हम सभी अतिथि शिक्षक और शिक्षिकाएं बहुत त्रस्त हो चुके हैं। सभी अतिथि शिक्षक अमरवाड़ा अनुविभागीय कार्यालय पहुंचकर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन अमरवाड़ा तहसीलदार रेखा देशमुख ने लिया और सरकार तक अतिथि शिक्षकों की मांगों को पहुंचाने की बात कही।
इस अवसर पर जिला अध्यक्ष संतोष कहार, योगेश चौरसिया, संकेत जैन, ओमशंकर विश्वकर्मा, निकीता चौरसिया, हितेश मिश्रा, आसमा, सचिन जैन, केएल पवार, सिद्धान्त गुप्ता, सतीश वोबडे, रोहित मालवीय, सोनिया जैन, मुनमुन इवनाती, प्रतीक्षा श्रीवास्तव सहित अनेक अतिथि शिक्षक और शिक्षिकाएं उपस्थित रहे।
बच्चों की पढ़ाई हुई ठप
सम्पूर्ण प्रदेश में अतिथियों के आंदोलन से शैक्षणिक व्यवस्था पूर्णत: ठप हो गई है। बहुत से ऐसे विद्यालय है जो सिर्फ अतिथि शिक्षकों के भरोसे चल रहे है। जिसके चलते स्थानीय 9 वीं और ११ वीं की परीक्षा भी बहुत प्रभावित होते हुए देखी जा रही है।


अतिथि शिक्षकों ने दिया धरना
सौसर. अतिथि शिक्षक संघ सौसर ने अपनी मांगो के समर्थन में अनिश्चित कालीन काम बंद हड़ताल कर तहसील परिसर के सामने धरना प्रदर्शन किया। अतिथि शिक्षकों ने समस्या पर प्रदेश सरकार द्वारा उनके हित कोई निर्णय नहीं लेने पर कड़ा विरोध किया। संघ के अध्यक्ष बंडू गोलाइत ने बताया कि लम्बित मांगों पर प्रदेश सरकार द्वारा कोई हल भी नहीं निकाला जा रहा है। धरना प्रदर्शन में अतिथि शिक्षकों ने जल्द से जल्द प्रदेश सरकार से मांगों के समर्थन में हल निकाले जाने के संबंध में विचार रखे। अतिथि शिक्षकों ने बताया कि सरकार द्वारा उनके हित में कोई फैसला नहीं हुआ तो वे सरकार के विरोध में खड़े रहेंगे। धरना स्थल पर शालु कोठे, बिन्दु सूर्यवंशी, रूपाली सिते, रीना तुमडाम, राजेश बागडे, अरूण सोमकुवर, सुनील लिखारे, प्रमोद बागड़े, श्याम डोंगरे, मयूर विजय सहारे आदि उपस्थित रहे।
प्रदिप बहातकर, राजेश पिंपलकर, विश्वेश्वर रंगारे, नरेश टेकाम, दुर्योधन उपासे सहित समस्त अतिथि शिक्षक उपस्थित रहे।

sanjay daldale Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned