इस ट्रेन को दो घंटे खड़े करने के पीछे सामने आई यह वजह, जानकर आप हो जाएंगे हैरान

इस ट्रेन को दो घंटे खड़े करने के पीछे सामने आई यह वजह, जानकर आप हो जाएंगे हैरान

Ashish Kumar Mishra | Publish: Jul, 20 2019 12:18:57 PM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

दोनों ही मंडल का कार्यालय नागपुर में है।


छिंदवाड़ा. पातालकोट एक्सप्रेस के चलते आए दिन भंडारकुंड-बैतूल पैसेंजर को छिंदवाड़ा में डेढ़ से दो घंटे खड़े रखने के पीछे की वजह हैरान कर देने वाली है। दरअसल अगर कोई एक्सप्रेस ट्रेन किसी रेल मंडल में किसी कारण से लेट हो जाती है तो इसका स्पष्टीकरण उस रेल मंडल को रेलवे बोर्ड दिल्ली को देना पड़ता है वहीं अगर पैसेंजर ट्रेन लेट हो जाए तो संबंधित रेल मंडल के अधिकारियों तक ही बात रह जाती है। यही वजह है कि पातालकोट एक्सप्रेस को निर्धारित समय पर परिचालन के लिए भंडारकुंड-बैतूल पैसेंजर को छिंदवाड़ा में डेढ़ से दो घंटे खड़े रखा जाता है। गौरतलब है कि परासिया रेलवे स्टेशन मध्य रेलवे वहीं छिंदवाड़ा रेलवे स्टेशन दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के अंतर्गत आता है। दोनों ही मंडल का कार्यालय नागपुर में है।


दस मिनट की भी देरी नहीं है बर्दास्त
पेंचवैली फास्ट पैसेंजर के रैक को ही भंडारकुड से बैतूल तक परिचालन के लिए भेजा जाता है। जिस दिन पेंचवैली इंदौर से भंडारकुंड देरी से पहुंचती है उस दिन भंडारकुंड से बैतूल पैसेंजर के परिचालन का शेड्यूल बिगड़ जाता है। ऐसे में भंडारकुंड-बैतूल पैसेंजर अगर दस मिनट की भी देरी से भंडारकुंड से छिंदवाड़ा पहुंचती है तो उसे पातालकोट एक्सप्रेस को ग्रीन सिग्नल देने के लिए लंबे समय तक स्टेशन पर खड़ा रखा जाता है। ऐसे में पैसेंजर ट्रेन में सवार यात्री खुद को ठगा हुआ महसूस करते हैं।

आय में भी हो रही कमी
भंडारकुंड-बैतूल पैसेंजर के छिंदवाड़ा में घंटों खड़े रहने की वजह से अब यात्री भी इसमें यात्रा करने से कतराने लगे हैं। यही वजह है कि इस ट्रेन की आय भी दिन प्रतिदिन घटती जा रही है।

इनका कहना है
अगर किसी कारण से निर्धारित समय पर एक्सप्रेस का परिचालन नहीं होता है तो इसका स्पष्टीकरण रेलवे बोर्ड को देना पड़ता है। पैसेंजर ट्रेन के परिचालन में देरी होने पर संबंधित रेल मंडल को रिपोर्ट देनी पड़ती है।
संतोष श्रीवास, स्टेशन प्रबंधक, छिंदवाड़ा

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned