पॉक्सो एक्ट की दी बच्चों को जानकारी, निकाली रैली

बच्चों में यौन अपराधों के प्रति जागरुकता एवं बचाव के उपाय विषय पर शासकीय महाविद्यालय के सभागार में प्राचार्य डॉ आरपी यादव ने व्यक्त किए।

छिंदवाड़ा. बिछुआ. वर्तमान समय में लैगिंग अपराध के बढ़ते ग्राफ से समाज भयभीत है। सरकार ने पॉक्सो एक्ट लागू कर दुष्कर्मियों को फांसी के फंदे तक पहुंचाने का संकल्प लिया है। ये विचार बच्चों में यौन अपराधों के प्रति जागरुकता एवं बचाव के उपाय विषय पर शासकीय महाविद्यालय के सभागार में प्राचार्य डॉ आरपी यादव ने व्यक्त किए।
विधिक सहायता प्रकोष्ठ संयोजक डॉ. पूजा तिवारी ने वर्तमान समय में पॉक्सो एक्ट की प्रांसागिकता पर विचार रखें । इस दौरान भौतिक विभागाध्यक्ष डॉ. साक्षी सहारे, विधिक सहायता प्रकोष्ठ सहसंयोजक मनीष कुमार ठाकुर, नोडल अधिकारी अजीत सिंह गौतम ने पुलिस एवं कानूनी पक्ष पर प्रकाश डाला। इस दौरान यौन अपराधों से संरक्षण के विषय पर विद्यार्थियों को जागरूक एवं सचेत रहने संबंधी व्याख्यान दिए गए । इसके बाद आम नागरिकों को पॉक्सो एक्ट से अवगत कराने के उद्देश्य से जागरूकता रैली ने नगर भ्रमण किया।
मीडिया प्रभारी निरंजन सिंह राजपूत ने बताया कि शासन की मंशानुरूप पॉक्सो एक्ट से विद्यार्थियों को जागरुक करने के लिए प्रति सप्ताह विविध कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। कार्यक्रम में डॉ. नोखेलाल साहू, डॉ. साकेत, डॉ बैद्यनाथ, स्वाति जैन, कलीराम यादव, मुकेश वर्मा एवं ध्रुवपाल कुमरे जागरुकता रैली में शामिल हुए।
दस्तावेज सत्यापन के लिए कॉलेज में कतार
महाविद्यालय में प्रवेश प्रक्रिया द्वितीय चरण जारी है। पहले चरण में कम प्रवेश के बाद द्वितीय चरण में सत्यापन के लिए विद्यार्थी लाइन में लगे नजर आ रहे है। शासकीय महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. वाय.के. शर्मा के निर्देश में समिति में प्रो. पीसी दुसाद, डॉ. संगीता वाशिंगटन, मनोज मालवीय, डॉ. आर सोनपुरे, शिवराम नंदवंशी, पुष्पा बरडे, डॉ. सुप्रिया साहू, डॉ. शिलावंती मस्करे, मो. वसीम, नारद सिंह यादव शामिल हैं।

arun garhewal
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned