पलक झपकते ही मोबाइल चुरा लेते थे ये नाबालिग, ऐसे लगे हाथ

Rajendra Sharma

Publish: Dec, 07 2017 05:36:35 (IST)

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
पलक झपकते ही मोबाइल चुरा लेते थे ये नाबालिग, ऐसे लगे हाथ

अंतरराज्यीय मोबाइल चोर गिरोह पकड़ा, 67 मोबाइल जब्त

छिंदवाड़ा/नागपुर. मोबाइल चोर गिरोह अंतरराज्यीय स्तर पर वारदातों को अंजाम देता था। गिरोह में शामिल तीन नाबालिग उम्र का फायदा उठाते हुए पलक झपकते ही लोगों के महंगे मोबाइल पर हाथ साफ कर देते हैं।
इस गिरोह को सक्करदरा पुलिस ने पकड़ा है।
दरअसल, पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी, जिसके आधार पर डकैती की तैयारी में 3 नाबालिगों समेत 7 आरोपियों को हिरासत में लिया था। जांच के दौरान पता चला कि ये अंतरराज्यीय गिरोह है। अलग-अलग शहरों में जाकर मोबाइल चोरी की वारदातों को अंजाम देती है। पुलिस अब तक उनसे 67 मोबाइल फोन जब्त कर चुकी है। पकड़े गए आरोपियों में साहबगंज झारखंड निवासी दीपक चमरू नोनिया, मोहम्मद इरशाद अंसारी, रामू दिलीप महतो और सूरजकुमार बाबूलाल मंडले का समावेश है। 14 से 17 वर्ष के 3 नाबालिग भी पुलिस के कब्जे में हैं।

67 स्मार्ट फोन बरामद

विगत शुक्रवार की रात पुलिस को जानकारी मिली थी कि कुछ लोग उमरेड रोड पर बहादुरा गांव में संदेहास्पद स्थिति में घूम रहे हैं। पुलिस दस्ते ने वहां पहुंचकर सातों को हिरासत में लिया। पूछताछ में आरोपियों ने नागपुर शहर और ग्रामीण इलाकों में मोबाइल चोरी की वारदातों को अंजाम देने की कबूली दी। पुलिस ने उनके ठिकानों पर छापा मारा, तलाशी के दौरान पुलिस को विभिन्न कम्पनियों के 67 स्मार्ट फोन बरामद हुए।

साप्ताहिक बाजार में करती थी चोरी

यह टोली ज्यादातर भीड़भाड़ वाले इलाकों में घूमती है। साप्ताहिक बाजार में आने वालों के मोबाइल चोरी करती है। चोरी के मोबाइल झारखंड आदि शहरों में बेचे जाते हैं। इसके पहले भी यह टोली नागपुर आ चुकी है। बड़े पैमाने पर मोबाइल चोरी करके झारखंड में बेचे हैं। आरोपियों से पुलिस हिरासत में अन्य वारदातों का पता लगाया जा रहा है। डीसीपी एस चैतन्य, एसीपी कापगाते और इंस्पेक्टर सांदिपन पवार के मार्गदर्शन में सब-इंस्पेक्टर एमजी ओरके, एमएस हिवरकर, हेडकांस्टेबल संजय सोनवने, संजय हूड, आनंद, शालिकराम, संदीप, अतुल और नितिन ने कार्रवाई को अंजाम दिया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned