कराते प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया गया

मयूर ने जीता इंटरनेशनल शतरंज स्पर्धा का खिताब

परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर 12 खिलाडिय़ों ने पाया ब्लैक बेल्ट
- कन्या शिक्षा परिसर में आयोजित हुआ प्रशिक्षण शिविर

छिंदवाड़ा. कन्या शिक्षा परिसर में कराते प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया गया। शिविर में ब्लैक बैल्ट परीक्षा भी आयोजित हुई। छिंदवाड़ा डोजो के 12 खिलाडिय़ों ने परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर ब्लैक बेल्ट पाया। बालक वर्ग में 9 वर्षीय अस्तित्व कुर्मी, पुष्कर बंदेवार, कार्तिक सिंह क्षत्रिय, युवराज मंडराह, मीत वर्मा, पलक जाधव एवं बालिका वर्ग में रिदिमा बंदेवार, आयुशी चौहान, ऐश्वर्या चौहान, तनिष्का द्विवेदी, सीमा शेरके को ब्लैक बैल्ट मिला। वहीं प्रियल गुप्ता को ब्लैक बैल्ट फस्र्ट डिग्री दी गई। यश खातरकर को कराते एसोसिएशन ऑफ इंडिया से ब्लैक बैल्ट फस्र्ट डिग्री प्रदान किया गया। इस उपलब्धि पर कराते प्रमुख राजेन्द्र सिंह तोमर, कोच रविन्द्र जायसवाल, कविता थापा ने खुशी जताई।

अंतरराष्ट्रीय शतरंज प्रतियोगिता का आयोजन गोवा में 22 से 25 जून तक किया गया। वर्ग सी में हुए प्रतियोगिता में शांति कॉलोनी निवासी मयूर कालबांडे ने उत्कृष्ट प्रतिभा दिखाते हुए प्रथम स्थान प्राप्त किया। उन्हें प्रतियोगिता समापन समारोह में गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत एवं ऊर्जा मंत्री ने प्रथम पुरस्कार के रूप में एक लाख पचास हजार की नकद राशि प्रदान कर सम्मानित किया। इस रेटिंग प्रतियोगिता में देश-विदेश से 610 खिलाडिय़ों ने हिस्सा लिया। सी वर्ग में मयूर ने अंत तक अपराजित रहकर खिताब अपने नाम किया। मयूर ने उपलब्धि का श्रेय माता-पिता ललीता अशोक कालबांडे एवं शतरंज अकादमी के संचालक प्रेम सतीजा को दिया। मयूर की इस उपलब्धि पर अंतरराष्ट्रीय रेटिंग प्राप्त खिलाड़ी लतीफ खान, जगदीश नारंग, विवेक यादव, सिटी चैस क्लब के शेख सत्तार, अकादमी डायरेक्टर नंद किशोर पराडकऱ, रमेश जाखोटिया, पूरन राजलानी एवं अन्य सदस्यों ने खुशी जताई।

chandrashekhar sakarwar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned