Lesson taught: सेमिनार में पुलिस अधिकारियों को पढ़ाया पाठ

पुलिस प्रशिक्षण हॉल में समाज के कमजोर वर्ग तथा महिलाओं, बच्चों के प्रति घटित अपराधों को रोकने के लिए संवेदनशीलता

By: babanrao pathe

Published: 01 Mar 2020, 12:08 PM IST

छिंदवाड़ा. पुलिस प्रशिक्षण हॉल में समाज के कमजोर वर्ग तथा महिलाओं, बच्चों के प्रति घटित अपराधों को रोकने के लिए संवेदनशीलता, जागरुकता एवं उत्कृष्ट विवेचना के लिए सेमिनार में दूसरे दिन भी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया।
दिन प्रतिदिन बढ़ते अपराधों की विवेचना के लिए आयोजित सेमिनार के दूसरे दिन अपराधों की विवेचना के लिए विवेचकों को सशक्त करने अनुविभागीय अधिकारियों, प्रशिक्षु उप पुलिस अधीक्षक, थाना प्रभारी एवं उपनिरीक्षकों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। एसपी विवेक अग्रवाल के मार्गदर्शन में प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

शनिवार को यूनिसेफ के समन्वय अधिकारी अमरजीत कुमार सिंह ने लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012, किशोर न्याय अधिनियम 2015 के विभिन्न प्रावधानों से अवगत कराया गया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शशांक गर्ग ने सीआरपीसी, आइपीसी के नवीन संशोधनों, उच्च एवं उच्चतम न्यायालयों से महिलाओं संबंधी अपराध, गिरफ्तारी एवं अभिरक्षा के संबंध में जारी दिशा- निर्देशों के अधीन विवेचना का स्तर सुधारकर सूक्ष्मता से विवेचना करने के संबंध में प्रशिक्षित किया। जिला एवं सत्र न्यायाधीश सचिव विधिक सेवा प्राधिकरण छिंदवाड़ा विजय सिंह कवछा ने अपराध पंजीयन एवं चालानी कार्यवाही के बाद पीडि़तों, उनके आश्रितों, परिजनों के लिए प्रतिकार की राशि पुनर्वास एवं निशुल्क चिकित्सीय सुविधाएं उपलब्ध कराने के सम्बंध में विधिक प्रावधानों से अवगत कराया गया।

Show More
babanrao pathe Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned