लोकायुक्त की जांच में मिले आठ बैंक खाते

लोकायुक्त की जांच में मिले आठ बैंक खाते
Lokayukta's action in Chhindwara

Prabha Shankar Giri | Updated: 26 Mar 2019, 11:03:20 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

लोकायुक्त कर रही सम्पत्ति की जांच

छिंदवाड़ा. राजपाल चौक निवासी और सिवनी जिले के पीएचइ विभाग में मैकनिकल उपयंत्री के पद पर पदस्थ प्रदीप कुमार तिवारी की सम्पत्ति सम्बंधित जांच लगातार जारी है। पिछले दस दिनों की जांच पड़ताल में कई अहम सुराग हाथ लगे हैं। परिवार के पांच सदस्यों के बीच आठ बैंक खाते मिले हैं। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि मामले की अभी तक पूरी परतें नहीं खुली हैं।
बता दें कि जबलपुर लोकायुक्त एसपी अनिल विश्वकर्मा के नेतृत्व में 15 मार्च को प्रदीप कुमार तिवारी के घर सुबह 5.30 बजे जबलपुर लोकयुक्त की टीम ने दबिश दी थी।
प्राथमिक जांच के दौरान ही लोकायुक्त के अधिकारियों ने उपयंत्री प्रदीप कुमार तिवारी के पास आय से अधिक सम्पत्ति होने की बात कही थी। डीएसपी एचपी चौधरी एवं जेपी वर्मा ने बताया कि तिवारी के छिंदवाड़ा में दो मकान, एक होटल जो बंद है। राजीव गांधी बस स्टैंड में दो दुकान, जागीरदार कॉम्प्लैक्स में दो दुकान के दस्तावेज मिले थे। इंदौर में एक प्लाट, नरसिंहपुर में 12 एकड़ जमीन व एक मकान, 10 लाख का सोना-चांदी मिला था। घर में नकदी 1 लाख 97 हजार रुपए थे। बैंक में 12 लाख रु. होना सामने आया था।

जांच में लगेगा लम्बा समय
जबलपुर लोकायुक्त डीएसपी एचपी चौधरी ने बताया कि उपयंत्री प्रदीप कुमार तिवारी की दो बेटी और एक बेटा है। परिवार में पांच सदस्य हैं। एक बेटी की शादी हो चुकी है और दूसरी प्रदेश से बाहर प्राइवेट नौकरी करती है। पांच लोगों के बीच में आठ बैंक खाते हैं। सम्पत्ति की कडिय़ां और भी दूसरे लोगों से जुड़ी हैं जिसकी जांच अभी जारी है। मामले की बारीकी से जांच होगी जिसमें लम्बा वक्ता लगता है। इसीलिए अभी और कोई जानकारी सार्वजनिक नहीं की जा सकती है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned