जरूरी सामान खरीदते समय भी बनाए रखें एक मीटर की दूरी

प्रति गुरुवार को लगने वाला साप्ताहिक बाजार कोरोना वायरस के चलते इस बार नहीं लगाया गया।

By: SACHIN NARNAWRE

Published: 27 Mar 2020, 05:45 PM IST

सौंसर. प्रति गुरुवार को लगने वाला साप्ताहिक बाजार कोरोना वायरस के चलते इस बार नहीं लगाया गया। गुरुवार होने की वजह से शहर के नागरिकों साथ ही ग्रामीण क्षेत्र के लोग भी सौंसर नगर में रोजमर्रा की अति आवश्यक सामान खरीदने के लिए सौंसर पहुंचे। दोपहर 12 बजे के बाद ग्रामीण क्षेत्र से आने वाले लोगों की आवाजाही के साथ-साथ नगर के लोगों की भी आवाजाही नजर आई।
कतारे लगाकर की खरीदारी : गुरुवार को साप्ताहिक बाजार नहीं लगा, परंतु ग्रामीण और शहर के नागरिक बाजार चौक, बस स्टैंड क्षेत्र में नजर आए। सब्जी, दवाइयां, किराना दुकानों में खरीदारी के लिए भीड़ लगी रही। कतारे लगाकर लोग सामान की खरीदी करते रहे।
पुलिस देते रही समझाइश: किराना, सब्जी की दुकान और मेडिकल स्टोर से सामान लेने पहुंचे लोगों को पुलिस आपस में एक मीटर की दूरी पर खड़े रहने समझाइश देती रही। इसी बीच लोगों के लापरवाही करते हुए सीधे दुकानों में जाने पर और एक-दूसरे से सटकर कर सामान लेने के दौरान पुलिस ने सख्ती दिखाई। लोगों से कोरोना वायरस की गंभीर परिस्थिति को देखते हुए अपनी सूझबूझ का परिचय देने के लिए भी कहा। पुलिस साफ तौर पर कहती रही कि यदि हमें कोरोना वायरस से बचना हैं तो सोशल डिस्टेंस बनाकर रखें।
बाहर से आने पर हाथ धोए साफ-सफाई करें: प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग विभाग की एडवाइजरी और गाइडलाइन के अनुसार यदि कोई व्यक्ति बाहर से अपने घर सामान आदि खरीदकर वापस आता है तो साबुन से अपने हाथ अवश्य धोए। साथ ही सफाई करके घर के अंदर जाएं।
अंचल में दिक्कत : लॉकडाउन की स्थिति में सभी दुकानें बंद होने के चलते अंचल में समस्या आने लगी है। ग्रामीण क्षेत्र के लोगों ने बताया कि ग्रामों में किराना, ब्जी की दुकानें नाम मात्र की होती हैं, वह भी बंद हैं। ऐसे में किराना, सब्जी या दवाइयां के लिए तकलीफ होने लगी है।
सुविधाओं से ज्यादा जरूरी सुरक्षा: प्रशासन ने कहा कि सुविधाओं से ज्यादा सुरक्षा की आवश्यकता है। ऐसे में लोगों को यदि सुरक्षा देने की ओर ज्यादा ध्यान दिया जाए तो ही अच्छा होगा। साथ ही एसडीएम ओमप्रकाश सनोडिया एवं तहसीलदार डॉ. अजय भूषण शुक्ला ने बताया कि शहर, नगर और ग्रामीण क्षेत्र के लिए सब्जी, किराना, दवाइयां आदि की अति आवश्यक रोजमर्रा लगने वाली वस्तुओं के लिए व्यवस्था बनाने पूरे प्रयास किए जा रहे हैं। घरों तक सब्जी, किराना पहुंच जाएं, ऐसी व्यवस्था बनाई जा रही है।

SACHIN NARNAWRE
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned