scriptMental slavery will be removed from education | शिक्षा से दूर होगी मानसिक गुलामी | Patrika News

शिक्षा से दूर होगी मानसिक गुलामी

काजलवानी में आयोजित बुद्ध धम्म महोत्सव में वक्ताओं ने संदेश दिया कि अच्छे समाज की स्थापना के लिए हमें तथागत बुद्ध और डॉ. बाबासाहेब अंबेडकर के विचारों पर चलना होगा। समतावादी, विज्ञानवादी, तर्कवादी बनना होगा। आयोजन बुद्ध धम्म प्रचार समिति काजलवानी की ओर से किया गया। उद्घाटन भंते धम्मसारथी ने किया । उन्होंने कहा मानसिक गुलामी को हम शिक्षा के जरिए दूर कर सकेंगे। बुद्ध का धम्म मानव कल्याण के लिए है।

छिंदवाड़ा

Updated: February 17, 2022 06:03:54 pm

छिन्दवाड़ा/सौंसर. काजलवानी में आयोजित बुद्ध धम्म महोत्सव में वक्ताओं ने संदेश दिया कि अच्छे समाज की स्थापना के लिए हमें तथागत बुद्ध और डॉ. बाबासाहेब अंबेडकर के विचारों पर चलना होगा। समतावादी, विज्ञानवादी, तर्कवादी बनना होगा। आयोजन बुद्ध धम्म प्रचार समिति काजलवानी की ओर से किया गया। उद्घाटन भंते धम्मसारथी ने किया । उन्होंने कहा मानसिक गुलामी को हम शिक्षा के जरिए दूर कर सकेंगे। बुद्ध का धम्म मानव कल्याण के लिए है। इससे पहले सभी ने बुद्ध प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। सामूहिक रुप से बुद्ध वंदना ली गई। व्यवस्था परिवर्तन के लिए महिलाओं और युवाओं का योगदान विषय पर सामाजिक कार्यकर्ता गौतमी, रंजीता नारनवरे, लोकेश म्हस्के ने विचार रखे। समता, स्वतंत्रता और बंधुत्व स्थापित करने के लिए जाति निर्मूलन व्यवस्था आवश्यक विषय पर डॉ रमेश शंभरकर,हृदेश सोमकुंवर ने अपनी बात कही। वक्ताओं ने कहा समाज के चहुंमुखी विकास के लिए एकजुट रहना होगा। बच्चों को बेहतर शिक्षा दिलाई जाएं। लडक़ा-लडक़ी में भेद नहीं करना है। थोथे रीति रिवाजों को छोड़ें। दिखावा नहीं करें। बेहतर शिक्षा पर पैसा खर्च करें। शिक्षा से ही विकास होगा। अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति की ओर से जाति अंत की लड़ाई पर लघु नाटक प्रस्तुत किया गया।बच्चों ने तथागत बुद्ध व डॉ बाबासाहेब आंबेडकर की थीम पर सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी गयी। कार्यक्रम में समिति संरक्षक के सोमकुंवर, अध्यक्ष डॉ वाय एल ठवरे,रमेश रंगारे ,मोरेश्वर रंगारे,डॉ आरआर राठौर,असिस्टेंट कमिश्नर सुनील ढोक, डीके बागडे,सतीश गोटेकर,अजय शेंडे नागपुर, रेखाबाई लोखंडे, सहित अशोक कडबे,वि_ल बागडे, सुरेश दुफारे, गुलाब खोब्रागडे विभिन्न राज्यों के शहरों सहित ग्रामीण अंचल से बडी संख्या में बौद्ध अनुयायी उपस्थित रहे।
budhist.jpg
Mental slavery will be removed from education

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

DGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थाकर्नाटक के सबसे अमीर नेता कांग्रेस के यूसुफ शरीफ और आनंदहास ग्रुप के होटलों पर IT का छापाPM Modi in Gujarat: राजकोट को दी 400 करोड़ से बने हॉस्पिटल की सौगात, बोले- 8 साल से गांधी व पटेल के सपनों का भारत बना रहापंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतेंई-कॉमर्स साइटों के फेक रिव्यू पर लगेगी लगाम, जांच करने के लिए सरकार तैयार करेगी प्लेटफॉर्मMenstrual Hygiene Day 2022: दुनिया के वो देश जिन्होंने पेड पीरियड लीव को दी मंजूरी'साउथ फिल्मों ने मुझे बुरी हिंदी फिल्मों से बचाया' ये क्या बोल गए सोनू सूदभाजपा प्रदेश अध्यक्ष का हेमंत सरकार पर बड़ा हमला, कहा - 'जब तक सत्ता से बाहर नहीं करेंगे, तब तक चैन से नहीं सोएंगे'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.