Electricity company: कम्पनी के फरमान से मीटर वाचकों में आक्रोश, अब हड़ताल की तैयारी

मीटर वाचकों को हर तीन माह में मिलेंगे नए बिजली उपभोक्ता

By: prabha shankar

Published: 03 Jul 2021, 11:11 AM IST

छिंदवाड़ा। जिले में एक बार फिर मीटर रीडिंग में देरी हो सकती है। पहले कोरोना व लॉकडाउन के चलते रीडिंग पर असर पड़ चुका है, अब विद्युत वितरण कम्पनी के नए आदेश को इसकी वजह माना जा रहा है।
दरअसल, विद्युत वितरण कम्पनी के नए आदेश के अनुसार हर तीन माह में शहरी मीटर वाचकों का कार्यक्षेत्र बदला जाना है। इसके विरोध में शहरी मीटर वाचक हड़ताल पर जाने की तैयारी में हैं। हालांकि कुछ मीटर वाचकों ने 30 जून तक रीडिंग ले ली, लेकिन संघ द्वारा विरोध की जानकारी मिलने के बाद मीटर वाचक शनिवार को ज्ञापन देने के बाद काम बंद हड़ताल पर चले जाएंगे। मीटर वाचकों का कहना है कि बार बार क्षेत्र बदलने से सौ प्रतिशत रीडिंग ले पाना सम्भव नहीं होगा। इससे रीडिंग से लेकर बिलों के वितरण तक समस्या आती रहेगी।

जिले में 325 मीटर वाचक
जिले में करीब चार लाख से अधिक तो छिंदवाड़ा में 64 हजार से अधिक उपभोक्ता हैं। इनके लिए जिलेभर में 325 मीटर वाचक एवं छिंदवाड़ा शहर सम्भाग के अंतर्गत 47 मीटर वाचक कार्य कर रहे हैं। नए आदेश के अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों को छोडकऱ शहरी क्षेत्रों के मीटर वाचकों के क्ष़़ेत्र बदल दिए गए हैं। हर एक को करीब डेढ़ हजार उपभोक्ताओं की रीडिंग लेनी होती है और रीडिंग के बाद आने वाले बिलों का वितरण करना पड़ता है।

काम लेकर भी नहीं दिया मानदेय
एक तरफ क्षेत्र बदलने को लेकर मीटर वाचक हड़ताल का मन बना चुके हैं, वहीं दूसरी तरफ ग्रामीण वितरण केंद्र चंदनगांव के अंतर्गत 15 मीटर वाचकों द्वारा बिजली विभाग के ग्रामीण वितरण केंद्र पर दबाव बनाकर जल्दी रीडिंग लेने का आरोप लगाया गया है। उन्होंने कार्यपालन अभियंता के नाम लिखे ज्ञापन में बताया कि पिछले माह बिलों के वितरण के बावजूद, उन्हें मानदेय कम दिया गया। जबकि कोरोना के बावजूद कई मीटर वाचकों ने उपभोक्ताओं के घरों तक जाकर रीडिंग ली। इसके अलावा अन्य समस्याओं को लेकर वे काम ठप करने का मन बना चुके हैं।

इनका कहना है
हर तीन महीने में क्षेत्र बदलने एवं अपै्रल माह के बिलों के वितरण के बावजूद मानदेय का भुगतान नहीं किए जाने के विरोध में मीटर वाचक अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जांएगे। इसके लिए अधीक्षण अभियंता एवं कार्यपालन अभियंता को शनिवार को ज्ञापन सौंपा जाएगा।
राजेश वर्मा, जिलाध्यक्ष, मीटरवाचक संघ

prabha shankar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned