इसलिए फ्लॉप साबित हो रही मोबाइल से अनारक्षित टिकट सेवा

एक माह में एक भी यात्री ने नहीं दिखाई दिलचस्पी: जागरुकता की कमी के साथ इंटरचेजिंग जोनल प्वाइंट भी बनी समस्या

By: prabha shankar

Published: 20 Jul 2018, 07:00 AM IST




छिंदवाड़ा. रेलवे द्वारा भले ही यात्रियों की सुविधा के लिए नई योजनाएं शुरू की जा रहीं हों, लेकिन रेलवे कर्मचारी इन योजनाओं को यात्रियों तक पहुंचाने में रुचि नहीं दिखा रहे हैं। यही वजह है कि दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे नागपुर मंडल द्वारा शुरू की गई मोबाइल से अनारक्षित टिकट सेवा जिले में परवान नहीं चढ़ पा रही है।
रेलवे अनारक्षित टिकट काउंटर से मिली जानकारी के अनुसार बीते 25 जून से इस सेवा को छिंदवाड़ा रेलवे स्टेशन में शुरू किया गया है। हैरानी की बात यह है कि लगभग एक माह बाद भी इस सेवा का एक भी यात्री ने लाभ नहीं लिया। इसके पीछे एक वजह यात्रियों में जागरुकता की कमी है। इस सेवा को शुरू करने के पीछे रेलवे की मंशा यात्रियों को लम्बी लाइन से मुक्ति दिलाना है। वहींअगर यात्री इस योजना का लाभ लेंगे तो डिजिटल भारत बनाने में सहयोग भी होगा। इस सेवा से यात्रियों को समय की बचत के साथ वॉलेट रिजार्ज करने पर पांच प्रतिशत अतिरिक्त बोनस, पर्यावरण संरक्षण में मदद, अपना टिकट अपने हाथ बनाने की सुविधा भी मिलेगी। यात्री मोबाइल एप के माध्यम से अनारक्षित टिकट के अलावा एमएसटी, प्लेटफॉर्म टिकट भी बनवा सकते हैं।
इस योजना का लाभ न लेने की एक वजह छिंदवाड़ा का इंटरचेजिंग जोनल प्वाइंट भी है। यात्री राजेश कवरेती ने बताया कि मोबाइल पर ऐप डाउनलोड करने के बाद मैंने भोपाल का टिकट लिया, लेकिन इसमें कुछ भी शो नहीं हुआ और पैसे भी कट गए।
इस सम्बंध में चीफ बुकिंग सुपरवाइजर का कहना है कि ऐसा रेलवे जोन बदलने की वजह से हो रहा है। दूसरे जोन के मोबाइल पर आप टिकट बनाते हैं तो आप अनारक्षित टिकट काउंटर पर अपना मोबाइल नम्बर बताकर टिकट का प्रिंट आउट ले सकते हैं। इसमें आपको कोई भी शुल्क नहीं देना है। दरअसल छिंदवाड़ा आउटर से परासिया की तरफ रेल यात्रा करने पर रेलवे का जोन बदल जाता है। मोबाइल ऐप में केवल दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे नागपुर मंडल की तरफ जाने वाले ट्रेन के पेपर रहित टिकट ही वर्तमान समय में छिंदवाड़ा से मोबाइल एप के माध्यम से मिल पाएगा। हालांकि टिकट काउंटर के कर्मचारियों का कहना है कि जल्द ही पूरे देश में यह सुविधा शुरू की जाएगी।

कैसे उठा सकते हैं इस सेवा का लाभ
अनारक्षित पेपर रहित टिकट लेने के लिए यात्री को एंड्रायड मोबाइल से यूटीएस अप्लीकेशन डाउनलोड करना होगा। इसके लिए आपको प्ले स्टोर से यूटीएस अप्लीकेशन को डाउनलोड कर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूर्ण करना है। रजिस्टर होने के लिए केवल एक बार साइनअप करना होगा। साइनअप करने के लिए यात्री को अपने मोबाइल पर सभी चाही गई जानकारी एवं ओटीपी जनरेट करना है। इसके पश्चात टिकट का विवरण दर्ज करना है। रजिस्टर्ड मोबाइल नम्बर पर लॉगिन के समय पासवर्ड प्राप्त होगा जो हर समय लॉगिन के लिए आवश्यक है। ऐप में लॉगिन करने के बाद यात्री को मोबाइल की स्क्रीन पर दिए पेपरलेस टिकट विकल्प का चयन करना होगा। आप अपने मोबाइल पर अनारक्षित टिकट काउंटर से एक से दस हजार रुपए तक का रिचार्ज करा सकते हैं। इसके अलावा के्रडिट कार्ड एवं अन्य माध्यम का भी प्रयोग कर मोबाइल से टिकट प्राप्त कर सकते हैं।

prabha shankar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned