अधिक बारिश का असर: फसलों और खेतों को नुकसान

छिंदवाड़ा/ पांढुर्ना. तीन दिनों तक हुई झमाझम बारिश का असर अब फसलों पर नुकसान के रूप में दिखाई देने लगा है। तेज हवाओं और बारिश के कारण मक्के की फसलें झुक गई है। कई जगह खेत खलिहानों में पानी भर जाने से समस्या होने लगी है।

By: Sanjay Kumar Dandale

Published: 25 Jul 2021, 06:13 PM IST

छिंदवाड़ा/ पांढुर्ना. तीन दिनों तक हुई झमाझम बारिश का असर अब फसलों पर नुकसान के रूप में दिखाई देने लगा है। तेज हवाओं और बारिश के कारण मक्के की फसलें झुक गई है। ग्राम रायबासा के किसान योगेन्द्र पराडक़र और सुनील बिसन्द्रे ने बताया कि तेज हवाओं और अधिक बारिश ने मक्का की फसलों को झुका दिया है। खेत के एक निश्चित रकबे को नुकसान पहुंचा है।
सौंसर . लगातार तीन दिन तक झमाझम बारिश के चलते क्षेत्र तरबतर हो गया है। वही बारिश ने सडक़ों की पोल खोल दी है। गड्डे पानी से भर गए। आवागमन में लोगो को परेशानी हो रही है। कई जगह खेत खलिहानों में पानी भर जाने से समस्या होने लगी है। ढलान वाले खेतों में पानी का जमाव दिख रहा है।इससे फसलों पर असर पडऩे की आशंका है।
रेलवे के अंडरपास में भरे पानी को मोटर पंप की सहायता से निकाला गया है। यहां जल जमाव की समस्या को देखते हुए जोनल रेलवे सदस्य विजय धवले ने रेलवे के अधिकारियों से बात कर अंडरपास में जमा पानी की निकासी करने को कहा। रेलवे शुक्रवार रात अंडरपास में पंप लगाकर पानी की निकासी कराई। वहीं ग्राम बिछुआबग्गू के अंडरपास में जमा मिट्टी साफ कराई गई। अंडरपास से अब आवागमन सुचारु हो गया है।

Sanjay Kumar Dandale
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned