झकझोर देगा उस नाबालिग का सच जिसे 12 की होने पर मां ने पहली बार बेचा था

prabha shankar

Publish: Sep, 17 2017 10:17:32 (IST)

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
झकझोर देगा उस नाबालिग का सच जिसे 12 की होने पर मां ने पहली बार बेचा था

17 वर्षीय नाबालिग को पुलिस ने जब मुक्त कराया तो उसने कहा मजबूरी, लेकिन पुलिस ने छानबीन की तो गांव की ज्यादातर महिलाएं मिलीं इस व्यापार में


छिंदवाड़ा/नागपुर. 17 वर्षीय नाबालिग को उसकी मां ने ही एक बार नहीं दो बार देह व्यापार के दलदल में धकेल दिया। पहली बार एक सामाजिक संस्था की मदद से उसे पुलिस ने उस दलदल से निकाल लिया था लेकिन मां ने फर्जी दस्तावेज के आधार पर उसे सुधारगृह से निकालकर फिर से देह व्यापार में धकेल दिया।
गांव की ज्यादातर महिलाएं इसी काम में
पुलिस की पूछताछ में किशोरी ने बताया कि उसके पिता खेती करते हैं। उन पर लाखों रुपए का कर्ज है। इसी मजबूरी का फायदा कुछ लोगों ने उठाया। १२ की उम्र उसका पहली बार सौदा हुआ था। हालांकि पुलिस इसे महज कहानी मान रही है। क्योंकि पुलिस ने पड़ताल की तो उन्होंने पाया कि किशोरी जिस गांव से है उस गांव की ज्यादातर महिलाएं पैसे कमाने के लिए इसी धंधे में हैं। और पकड़े जाने पर वे इसे पुश्तैनी धंधा बताती हैं।
नागपुर की गंगा-जमुना बस्ती देश की पूरे विश्व में देह व्यापार के लिए बदनाम है। यहां कई बार कार्रवाई कर पुलिस ने नाबालिगों को मुक्त कराया, लेकिन सफेदपोश और रसूखदार लोगों के चलते इसे जड़ से खत्म नहीं किया जा सका। हालही में एक सामाजिक संगठन की पहल पर पुलिस ने देह व्यापार में फंसी एक 17 वर्षीय किशोरी को दोबारा यहां से मुक्त कराया है। बाद में उसे बाल सुधारगृह भेज दिया गया।

पुलिस ने बताया कि इस बार पुलिस ने किशोरी के बयान के आधार पर मां के खिलाफ भी कार्रवाई की है। मां ने ही उसे दोबार देह व्यापार में धकेल दिया था। दरअसल एक सामाजिक संस्था को यह सूचना मिली थी एक नाबालिग को जबरन बंधक बनाकर उससे देह व्यापार कराया जा रहा है। सूचना पर पुलिस ने शाम करीब ६.३० बजे उक्त इलाके में छापा मारकर उसे मुक्त कराया। साथ ही कुछ आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने किशोरी को आर्थिक मदद का लालच देकर उसे नागपुर से लेकर आए थे। किशोरी के पिता राजस्थान में खेती करते हैं। उसके बाद उसे एक कमरे में बंद कर देह व्यापार के मजबूर किया। इस बीच उसकी मां ने उसे मुम्बई और जबलपुर में भी देह व्यापार कराया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned