scriptMOTHERS DAY | MOTHERS DAY: मदर्स डे पर युवाओं ने भावनाएं की व्यक्त, पढकऱ आपकी भर आएगी आंख | Patrika News

MOTHERS DAY: मदर्स डे पर युवाओं ने भावनाएं की व्यक्त, पढकऱ आपकी भर आएगी आंख

इस दुनिया का सबसे खुबसूरत शब्द ‘मां’ है।

छिंदवाड़ा

Updated: May 08, 2022 09:36:56 pm



छिंदवाड़ा. बच्चे की खुशी में खुश और तकलीफों में दर्द बांटती है, ये मां है साहब हार कहां मानती है। मां से बढकऱ कोई नहीं। मां है तो सब कुछ है। मां से अलग जीवन अधूरा है, रिक्त है। कहते हैं कि भगवान हर जगह नहीं पहुंच सकता इसीलिए उसने मां बना दी। इस दुनिया का सबसे खुबसूरत शब्द ‘मां’ है। इस शब्द के उच्चारण से हमें प्यार और ऊर्जा की अनुभूति होती है। हम सबके जीवन में मां का विशेष स्थान है। मां वह होती है जो बिना स्वार्थ के अपने बच्चों को प्यार करती है। बच्चा बड़ा हो या छोटा उसकी मां उसके दिल के सबसे ज्यादा करीब होती है। हमें इस दुनिया में लाने वाली, अपना प्यार लुटाने वाली, अपने ममता की छांव में बड़ा करने वाली मां का कर्ज उतारना मुश्किल है, लेकिन हम उनकी सेवा करके और उनके प्रति अपना प्यार जताकर उन्हें खुश रख सकते हैं। कहते हैं दुनिया में मां की मोहब्बत का कोई दिन नहीं होता। मां का आंचल अपनी संतान के लिए कभी छोटा नहीं पड़ता। मां का विश्वास और प्रेम अपनी संतान के लिए इतना गहरा और अटूट होता है कि मां अपने बच्चे की खुशी के खातिर सारी दुनिया से लड़ सकती है। कहते हैं कि बच्चे को एक मां ही अच्छी तरह समझती है, लेकिन तब क्या जब उसे अकेले ही सिंगल पैरेंट की भूमिका निभाकर बच्चे की परवरिश करनी पड़ती है। शहर में ऐसी कई मां हैं जो अकेले ही बच्चे का पाल रही हैं। मदर्स डे की पूर्व संध्या पर हमने ऐसे ही कई बच्चों से बातचीत की।
MOTHERS DAY: मदर्स डे पर युवाओं ने भावनाएं की व्यक्त, पढकऱ आपकी भर आएगी आंख
MOTHERS DAY: मदर्स डे पर युवाओं ने भावनाएं की व्यक्त, पढकऱ आपकी भर आएगी आंख

मुझे कभी लगा नहीं कीपापा होते तो अच्छा होता
बीमारी की वजह से परतला निवासी नैनसी धकाते के पिता का देहांत वर्ष 2014 में हो गया। उस समय नैनसी 12 वर्ष की थी और उनकी बड़ी बहन तृप्ती 15 वर्ष की। घर में केवल मां थी। परिवार की पूरी जिम्मेदारी उन्ही के कंधे पर आ गई। नैनसी कहती हैं कि विपरित परिस्थिति में भी मेरी मां ने हार नहीं मानी। वह खुद भी जॉब करती थी इसलिए हमें आर्थिक स्थिति से जूझना नहीं पड़ा। लेकिन पति के जाने का गम बहुत बड़ा होता है इसका एहसास उन्होंने हमें नहीं होने दिया। दो बेटियों को पालने की जिम्मेदारी मां ने बखुबी निभाई है। इसी वजह से मुझे आज तक कभी लगा ही नहीं कि पापा होते तो अच्छा होता। मम्मी ने कभी एहसास नहीं होने दिया कि पापा मेरे नहीं हैं। आज मेरी बड़ी बहन इंदौर में आर्किटेक्ट है। मैं भी अच्छे से पढ़ाई कर रही हूं। मैं चाहती हूं कि भविष्य में मैं कुछ ऐसा करूं कि मम्मी प्राउड फील करे। मेरी मां सबसे अच्छी मां है।
-----------------------------------
हर गम छुपाकर हमें खुश रखती है मां
पातालेश्वर मंदिर निवासी लीसा लारोकर के पिता का देहांत कोरोना की दूसरी लहर में हो गया। लीसा कहती हैं कि पापा के जाने से हमारे परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा था, लेकिन मां ने हिम्मत कर सबकुछ संभाला। मां हर गम को भूलकर हम भाई-बहनों के चहरे पर हमेशा खुशी लाने का प्रयास करती है। मां कभी कहती नहीं है, लेकिन वह हम बच्चों के भविष्य के लिए बहुत चिंतित रहती है। हर समस्या का डटकर सामना कर हमारे भविष्य को गढ़ रही है। लीसा कहती हैं कि हम चार भाई, बहन हैं। मेरी बड़ी बहन जॉब कर पूरा परिवार चला रही है और मां हम सभी को संभाल रही है। लीसा डॉक्टर बनना चाहती हैं। लीसा की चाहत है कि वह मां को हर खुशी दे।
----------------------------------
मरे लिए मां मतलब पूरा संसार है
गणेश कॉलोनी निवासी पलक गौतम के पिता का लीवर कैंसर की वजह से दो वर्ष पहले देहांत हो गया। पलक पांच भाई बहन हैं। पलक कहती हैं कि पापा के जाने से पूरा परिवार टूट गया था, लेकिन मां ने खुद को संभाला और हम बच्चों की परवरिश में कोई कसर नहीं छोड़ी। वह अपनी दुखों को भूलकर हमें आगे बढऩे के लिए हमेशा प्रेरित करती है। पलक कहती हैं कि मुझे लगता है कि मां मतलब पूरा संसार। मां के लिए हर दिन उत्सव होना चाहिए। उनकी जगह कोई नहीं ले सकता है। मैं सभी से कहूंगी वह अपनी मां का दिल कभी न दुखाएं।
--------------------

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

हैदराबाद : बीजेपी की बैठक का आज दूसरा दिन, पीएम मोदी करेंगे संबोधितNIA की टीम ने केमिस्ट की हत्या की जांच के लिए महाराष्ट्र के अमरावती का किया दौराभाजपा ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में 'अर्थव्यवस्था' और 'गरीब कल्याण' पर प्रस्ताव किया पारित, साथ ही की 'अग्निपथ योजना' की सराहनाUdaipur murder case: गुस्साए वकीलों ने कन्हैया के हत्यारों के जड़े थप्पड़, देखें वीडियोAmravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईIndian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.