scriptMunicipal Corporation in chhindwara | Municipal Corporation: चार माह में सवा तीन करोड़ रुपए के अवैध हिस्से हुए वैध | Patrika News

Municipal Corporation: चार माह में सवा तीन करोड़ रुपए के अवैध हिस्से हुए वैध

इ-नगर पालिका पोर्टल से नागरिकों ने स्वयं पूरी की ऑनलाइन प्रक्रिया

छिंदवाड़ा

Updated: June 04, 2022 10:08:28 am

छिंदवाड़ा। इस साल नगरीय प्रशासन विकास विभाग ने ऐसे भवन मालिकों को राहत दी है जिन्होंने अपने स्वीकृत क्षेत्रफल से अधिक हिस्से में मकान बनवा लिया है। ऐसे मकान मालिकों को न सिर्फ बनाए गए अतिरिक्त हिस्से की वैधता मिल रही है बल्कि उन्हें कम्पाउंडिंग में लगने वाली 20 फीसद राशि कम देनी पड़ रही है। 30 जनवरी के बाद से कम्पाउंडिंग में मिली छूट का फायदा उठाते हुए निगम क्षेत्र के एक सैकड़ा भवन मालिकों ने चार महीने में अपने घर के अवैध हिस्से को वैध कराया। इससे निगम की आय में सवा तीन करोड़ रुपए का इजाफा हुआ। अभी भी शहर के 200 से अधिक ऐसे भवन मालिकों की सूची निगम के पास है जिनके मकान स्वीकृत नक्शे से अधिक में बने हुए हैं। नगरीय प्रशासन विकास विभाग ने कम्पांउडिंग की समय सीमा 28 फरवरी तय की थी, जिसे बाद में बढ़ाते हुए 30 जून कर दी गई। इसका फायदा निगम को हुआ है।

nagarnigamchhindwara
nagarnigamchhindwara

वैध करवाना है जरूरी
शहर में स्वीकृत नक्शे के अनुसार बने हुए मकान उंगलियों में गिने जा सकते हैं। जबकि इसके विपरीत बने हुए मकानों की गिनती हजारों में है। दरअसल जब निगम नक्शा स्वीकृत करता है तब से लेकर मकान पूरा बनने तक कई परिवर्तन भवन मालिक करवा लेता है। देखते ही देखते कई बार स्वीकृत क्षेत्रफल से मकान का क्षेत्रफल अधिक हो जाता है। इसकी नाप कर निगम या तो उनसे कम्पाउंडिंग कर की अतिरिक्त राशि जमा करवाता है या उतने हिस्से को तोड़ दिया जाता है।

इस तरह होता है आवेदन
निगम अधिकारियों ने बताया कि आवेदन की समस्त प्रक्रिया खुद भवन मालिक इ-नगर पालिका पोर्टल पर जाकर कर रहे हैं। इसके लिए अपनी आइडी बनाकर इ-सर्विसेज विकल्प में जाकर भवन योजना अनुमोदन का चयन करना पड़ता है। ऑटोमेटेड बिल्डिंग प्लान अप्रूवल सिस्टम सेकंड वेब पेज के माध्यम से कम्पाउंडिंग सीमा में तय की गई 30 प्रतिशत की वृद्धि के नए नियमों के अनुसार ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

इनका कहना है
अब तक करीब सौ से अधिक भवन मालिकों ने सवा महल करोड़ रुपए जमा करके 30 प्रतिशत तक अतिरिक्त हिस्से का वैध कराने का लाभ लिया है। इसमें उन्हें कंपाउंडिंग राशि में 20 प्रतिशत की छूट भी दी गई है।
मोहन नागदेव, कार्यालय अधीक्षक नगर निगम

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार ने दिया इस्तीफा, 160 विधायकों के साथ नई सरकार बनाने का दावा किया पेशBihar Political Crisis: नीतीश कुमार ने दिया इस्तीफा, अब महागठबंधन के साथ बनाएंगे सरकारBihar Political Crisis: नीतीश कुमार ने इस्तीफा सौंपने के बाद कहा - 'बीजेपी के साथ एक नहीं कई दिक्कतें थीं'Maharashtra Cabinet Expansion: कौन है सीएम शिंदे की नई टीम में शामिल 18 मंत्री? तीन पर लगे है गंभीर आरोपगुजरात के जामनगर में मुहर्रम पर बड़ा हादसा, ताजिया जुलूस में करंट लगने से दो की मौत, कई घायललालू-नीतीश की दोस्ती से ढह जाते हैं सारे समीकरण, जानिए फिर कैसे कम हुई दोनों के बीच दूरियां40 साल के सियासी सफर में 17 साल से सत्ता में नीतीश कुमार, लेकिन पुराने सहयोगियों को कई बार दे चुके हैं दगाGoogle: अमरीका के गूगल स्थित डेटा सेंटर में बड़ा हादसा,आग लगने से तीन कर्मचारी झुलसे, सेवाएँ बाधित होने की आशंका
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.