कत्ल के आरोपी को आजीवन सश्रम कारावास

पुलिस ने गुम इंसान कायम कर छानबीन की, लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला।

छिंदवाड़ा. परासिया के वार्ड क्रमांक एक निवासी शाहिस्ता अंजुम (32) पिता शेख इब्राहिम की हत्या के आरोपी अल्तमस मुसलमान (33) निवासी वार्ड क्रमांक पांच गांधी चौक डुंगरिया को न्यायालय ने आजीवन सश्रम कारावास की सजा सुनाई। इस मामले पर करीब एक साल पांच माह में न्यायालय ने फैसला सुनाया। चतुर्थ अपर सत्र न्यायाधीश छिंदवाड़ा शशिकांत वर्मा ने फैसला सुनाया।

शाहिस्ता के भाई शेख शोयब ने 24 मई 2018 को परासिया थाना में उपस्थित होकर रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसकी बहन 22 मई को बैंक से रुपए निकालने का कहकर घर से निकली थीं, जिसके बाद वह घर नहीं लौटी है। पुलिस ने गुम इंसान कायम कर छानबीन की, लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला। पुलिस ने शाहिस्ता के मोबाइल की कॉल डिटेल निकाली तो जिस दिन वह घर से निकली थीं उस दिन अंतिम बार अल्तमस मुसलमान (33) निवासी वार्ड क्रमांक पांच गांधी चौक डुंगरिया से चर्चा हुई थी। पुलिस ने अल्तमस मुसलमान को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की तो उसने कत्ल करना कबूला और इसके पीछे की वजह युवती का शादी के लिए दबाव बनाना बताया। आरोपी ने शाहिस्ता को फोन कर तामिया बुलाया और जंगल में ले जाकर चाकू एवं पत्थर से हत्या कर शव को गड्डे में फेंकना बताया। आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने शव को बरामद कर शिनाख्त कराने के बाद परिजनों को सौंपा।


इन धाराओं में सुनाई सजा

न्यायालय ने बचाव और अभियोजन पक्ष के तर्कों को सुनने के बाद आरोपी अल्तमस मुसलमान को भादंवि की धारा 302 में आजीवन सश्रम कारावास एवं दो हजार रुपए के अर्थदण्ड से दंडित किया। अर्थदण्ड नहीं चुकाने की स्थिति में एक साल का अतिरिक्त कारावास भुगताया जाएगा। इसके अलावा धारा 201 में तीन साल का सश्रम कारावास एवं पांच सौ रुपए के अर्थदण्ड से दंडित किया। अर्थदण्ड नहीं चुकाने की स्थिति में पांच माह का अतिरिक्त कारावास भुगताया जाएगा। सभी सजाएं एक साथ भुगताई जाएगी। प्रकरण में शासन की ओर से शासकीय अधिवक्ता सुनील सिंधिया ने पैरवी की।

Show More
babanrao pathe
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned