Murder: छत की सीट हटाकर घर में घुसे, हथियार से किए ताबड़तोड़ वार

Murder: चौबीस घण्टे में पकड़े हत्या के आरोपी, नवेगांव थाना पुलिस ने किया खुलासा

By: prabha shankar

Published: 31 Mar 2020, 05:23 PM IST

छिंदवाड़ा/ नवेगांव थाना क्षेत्र के ग्राम घुडै़ल निवासी भीकाराम (28) पिता मनीराम उइके का शव 29 मार्च की सुबह घर में ही मिला था। गले और सिर पर चोट के निशान थे। ग्राम कोटवार की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया। प्राथमिक तौर पर ही हत्या का संदेह हो चुका था, लेकिन पुलिस के पास कोई सुराग नहीं थे।
एसपी विवेक अग्रवाल और एएसपी शशांक गर्ग के निर्देश पर जुन्नारदेव एसडीओपी एसके सिंह के मार्गदर्शन में जांच के लिए टीम का गठन किया। नवेगांव थाना के प्रभारी टीआइ दीपक डेहरिया ने जांच और छानबीन शुरू की। भीकाराम के घर की छत से सीमेंट की सीट हटाकर आरोपी अंदर घुसे थे। धारदार हथियार से हत्या कर फरार हो गए। मुखबिर और साइबर सेल की मदद से आरोपियों का सुराग जुटाया।
अंधेहत्या कांड के खुलासे में नवेगांव थाना के प्रभारी टीआइ दीपक डेहरिया, सहायक उपनिरीक्षक नरेश शर्मा, प्रधान आरक्षक कैलाश पवार, सुंदरसिंह, आरक्षक सुखदेव, हितेन्द्र, अनुज, योगेश, पूरन, रामभरोस, हेमेन्द्र, ब्रजेश, महिला आरक्षक शारदा और निधि सहित अन्य शामिल थे।

आरोपी भीकाराम की पत्नी से करता था बात
भीकाराम की पत्नी से ग्राम कोरपानीकला डोरलीढाना निवासी संतराम उइके (27) बात करता था। इसे लेकर कुछ समय पहले भीकाराम और संतराम के बीच विवाद हुआ था। इसी रंजिश को लेकर 28 मार्च की रात में मौका पाकर संतराम उइके ने अपने दोस्त शिवनाथ विश्वकर्मा (21) निवासी ग्राम मोरछी के साथ मिलकर धारदार हथियार से हत्या कर दी।

Show More
prabha shankar Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned