डॉक्टरों की लापरवाही...कोरोना पॉजिटिव को परिवार समेत भेज दिया घर, जानें स्थिति

रिपोर्ट आने के पहले ही कर दिया डिस्चार्ज, दो डॉक्टरों की लापरवाही पर दिया नोटिस

By: Dinesh Sahu

Published: 03 Jun 2020, 02:21 PM IST

छिंदवाड़ा/ जिला अस्पताल आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कोविड-19 मजदूर की रिपोर्ट के आने का इंतजार किए बिना ही पिपलानारायणवार निवासी पॉजिटिव मरीज तथा उनके परिवार के लोगों को मंगलवार सुबह 10 बजे डिस्चार्ज कर दिया गया। इस लापरवाही पर विभाग प्रमुख ने दो डॉक्टरों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

वहीं पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद इमरजेंसी एम्बुलेंस 108 से दोबारा पॉजिटिव मरीज तथा परिवार के सभी सदस्यों को जिला अस्पताल लाया गया है। आइसोलेशन वार्ड के नोडल अधिकारी डॉ. भूपेंद्र जैन ने बताया कि उक्त मामले में डॉ. आशीष अग्रवाल तथा डॉ. अर्चना सिंह ने लापरवाही बरती है, जिसके लिए उन्हें नोटिस दिया गया है। संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

- अब तक भेजे गए 718 स्वाव सेम्पल


जिले में अन्यत्र क्षेत्रों से पहुंचने वालों की संख्या बढ़कर 41 हजार 696 हो गई है, जिनका स्वास्थ्य परीक्षण किया गया है। वहीं अब तक कोरोना वायरस संक्रमण की जांच के लिए 718 सेम्पल आइसीएमआर लैब जबलपुर भेजे गए, जिसमें से 28 सेम्पल रिजेक्ट हुए है। सीएमएचओ कार्यालय के अनुसार 541 सेम्पल रिपोर्ट नेगेटिव तथा 130 की जांच लंबित है।


प्रशासन ने किया कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित -


तहसील मोहखेड़ के ग्राम मऊ में मकान क्रमांक-81 से मकान क्रमांक-91 से आंगनबाड़ी भवन क्रमांक-128 तक तथा मकान क्रमांक-115 से इकलबिहरी नदी तक के क्षेत्र तथा पांढुर्ना तहसील के ग्राम माण्डवी में वार्ड क्रमांक-4 के मकान क्रमांक-53 से 61 तक और ग्राम ईटवाढाना के वार्ड क्रमांक-6 मकान क्रमांक-22 से 25 तक आमने-सामने की गली तक के क्षेत्र को कंटेनमेंट एरिया घोषित किया गया है।

COVID-19
Dinesh Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned