दुकानों का नहीं हुआ आवंटन

दुकानों का नहीं हुआ आवंटन

Sunil Lakhera | Publish: Jul, 20 2019 05:10:51 PM (IST) Chhindwara, Madhya Pradesh, India

योजनाएं दम तोड़ती नजर आ रही

गुढ़ी अम्बाड़ा. सरकार द्वारा ग्रामीणों की सुविधा के लिए तरह-तरह की योजनाएं लागू की जाती है लेकिन उचित रखरखाव के अभाव में यहां योजनाएं दम तोड़ती नजर आ रही है। गौरतलब है कि ग्राम पंचायत पालाचौरई के गुढ़ी बस स्टॉप के पास विगत पांच वर्ष पूर्व मुख्यमंत्री हाट बाजार योजना के अंतर्गत लगभग 45 लाख रुपए की लागत से आठ दुकानें एवं 50 टीन शेट एवं चबूतरा सहित फर्शीकरण का कार्य किया गया था एवं निर्माण पूर्ण होने के बाद इसे पंचायत को हैंडओवर कर दिया लेकिन पांच वर्ष बीत जाने के बावजूद भी अभी तक यह दुकानें आवंटन का इंतजार कर रही है।
जनपद पंचायत एवं ग्राम पंचायत के बीच पेंच फंसा होने की वजह से इन दुकानों की नीलामी नहीं हो पा रही है जिसकी वजह से एक और तो शासन को आवक नहीं हो पा रही है वहीं दूसरी ओर पंचायत क्षेत्र के बेरोजगार युवाओं को भी इन दुकानों की नीलामी ना होने की वजह से रोजगार करने के लिए दुकानें नहीं मिल पा रही है। जबकि यह खाली दुकान अब क्षेत्र के कुछ रसूखदारों के लिए कबाड़ रखने का अड्डा बनी हुई है जो कि अपना बेकार सामान इन दुकानों में रखकर ताला लगाए हुए बैठे हैं। विगत पांच वर्षों से आवंटन का इंतजार करती मुख्यमंत्री हाट बाजार योजना कि नवनिर्मित दुकाने के आवंटन को लेकर जिला कलेक्टर महोदय को इस मामले को संज्ञान में लेकर हस्तक्षेप करने की मांग क्षेत्र के ग्रामीणों ने की है।
मुख्यमंत्री हाट बाजार योजना से बना रहे दुकान पंचायत को हैंड ओवर तो की जा चुकी है लेकिन जनपद पंचायत से नीलामी ना होने की वजह से इसका आवंटन रुका हुआ है।- गिरिज उइके, सरपंच, ग्राम पंचायत पालाचौरई
शासन का लाखों रुपया व्यय करके चबूतरा, टीन शेड एवं दुकानों का निर्माण किया था लेकिन नीलामी ना होने की वजह से इसका लाभ युवाओं को नहीं मिल पा रहा। दुकानोंं की निलाामी कर देना चाहिए।- शैलेन्द्र कुरोलिया, अध्यक्ष सहारा सोशल कल्याण समिति

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned