पिछली बारिश में क्षतिग्रस्त पुल व सडक़ की किसी ने नहीं ली सुध, इस बार फिर खतरा

बीते साल पेंच नदी में आई बाढ़ ने तबाही मचाई थी ,जिससे कई गांव ,सडक़ें और पुल प्रभावित हुए थे । बाढ़ के पानी की वजह से बादगांव के समीप पेंच नदी के पुल की एप्रोच रोड बह गई थी । आवागमन बंद हो गया था पीडब्लूडी पुल पर मुरम डालकर भूल गया है जो धीरे-धीरे खिसक रही है ।

By: Sanjay Kumar Dandale

Published: 16 Jun 2021, 08:36 PM IST

छिंदवाड़ा/चौरई. बीते साल पेंच नदी में आई बाढ़ ने तबाही मचाई थी ,जिससे कई गांव ,सडक़ें और पुल प्रभावित हुए थे । बाढ़ के पानी की वजह से बादगांव के समीप पेंच नदी के पुल की एप्रोच रोड बह गई थी । आवागमन बंद हो गया था पीडब्लूडी पुल पर मुरम डालकर भूल गया है जो धीरे-धीरे खिसक रही है । बारिश के दिनों में यह मुरम जानलेवा साबित हो सकती है बारिश के पानी की वजह से मुरम और मिट्टी से वाहन फि सलने का डर बना हुआ है।
एक बार मुरम डालने के बाद विभाग ने दोबारा पुल की सुध नहीं ली है। दस माह बाद एक बार फि र से बारिश का मौसम आ गया है। ऐसे में बरसात की वजह से मुरम बह जाने के बाद फिर आवागमन बाधित हो सकता है। दर्जनों गांव का संपर्क प्रभावित हो जाएगा। आमजन द्वारा जिला प्रशासन और जनप्रतिनिधियों से एप्रोच सडक़ के निर्माण के लिए गुहार लगाई । परंतु 10 महीने के बाद भी सडक़ निर्माण नहीं हुआ जिससे लोगों में रोष है।

पिलर की पिचिंग को भी नुकसान
बादगांव स्थित पेंच नदी के पुल का ग्राम पौनिया की ओर का हिस्सा भी बाढ़ की वजह से क्षतिग्रस्त हो गया था। जिसकी आज कर मरम्मत नही कराई गई। भारी वाहन निकलने से यहां बड़ा हादसा होने की आशंका बनी हुई है जिस पर प्रशासन को गंभीरता से ध्यान देकर काम करना चाहिए। इसके अलावा पुल के पिलर की पिचिंग को भी नुकसान हुआ है । लोगों को आशंका है कि अगर पिछले वर्ष की तरह बाढ़ के हालात बने तो इस का हाल भी कहीं सांख पुल की तरह न हो जाए।

Sanjay Kumar Dandale
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned