Mall: करोड़ों के मॉल पर पार्किंग के नहीं इंतजाम

लॉकडाउन खत्म होने के बाद धीरे-धीरे अब बाजार ने जोर पकड़ लिया है। बड़ी संख्या में लोग बाजारों में खरीददारी करने पहुंच रहे हैं।

By: babanrao pathe

Published: 07 Sep 2020, 10:52 AM IST

छिंदवाड़ा. लॉकडाउन खत्म होने के बाद धीरे-धीरे अब बाजार ने जोर पकड़ लिया है। बड़ी संख्या में लोग बाजारों में खरीददारी करने पहुंच रहे हैं। लोग अपने दोपहिया और चौपहिया वाहन लेकर बाजार में पहुंच रहे। मॉल और करोड़ों रुपए के मॉल और दुकानों में पार्किंग के इंतजाम नहीं होने के कारण लोग सड़क पर वाहन खड़े कर रहे हैं।

सड़कों पर वाहन पार्किंग की समस्या दूर नहीं हो रही है। शहर में करोड़ों रुपए के मॉल और दुकानें हैं, लेकिन किसी के पास पार्किंग के लिए जगह नहीं है। इसको लेकर कभी जिम्मेदारों ने भी गम्भीरता नहीं दिखाई। कुछ मॉल में पार्किंग है तो उसका उपयोग कुछ लोग लम्बे समय से स्थाई तौर पर कर रहे हैं। इसकी वजह से उन्हीं की दुकान या फिर मॉल में खरीदी करने के लिए पहुंचने वाले लोग दोपहिया और चौपहिया वाहनों को मजबूरी में सड़क पर खड़ा करते हैं। कुछ माल और दुकानों में पार्किंग के लिए पर्याप्त जगह है, लेकिन उस पर मॉल या फिर दुकान वालों का ही स्थाई कब्जा है। वहीं दूसरी तरफ ऐसे मॉल और दुकानों की संख्या सबसे अधिक है, जिन्होंने के निर्माण के दौरान पार्किंग के लिए जगह ही नहीं छोड़ी। जिम्मेदारों ने भी कार्रवाई करने पर ध्यान नहीं दिया है। पार्किंग के लिए कोई स्थाई साधन नहीं होने के कारण लोग सड़क पर ही वाहन खड़ा कर घण्टों खरीदी करते हैं, जिसकी वजह से अन्य वाहन चालकों को आवाजाही में परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

इन रास्तों पर बिगड़ रहे हालात
नागपुर रोड, फव्वारा चौक से छोटी बाजार, पालिका मार्केट, गांधी गंज और श्याम टॉकीज क्षेत्र, परासिया रोड, खजरी रोड, कलेक्ट्रेट रोड, इएलसी से फव्वारा चौक और वहां से जेल तिराहा, पोस्ट ऑफिस से मटका बाजार, घास बाजार से जिला जेल तक के क्षेत्र में पार्किंग सड़क पर होती है। इन हिस्सों में लाखों और करोड़ों रुपए की दुकानें और मॉल बने हुए हैं, लेकिन पार्किंग के इंतजाम किसी के पास नहीं है।

Show More
babanrao pathe Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned