scriptसिर्फ 20 फीसद ने ही बनाया रैन वाटर हार्वेस्टिंग | Patrika News
छिंदवाड़ा

सिर्फ 20 फीसद ने ही बनाया रैन वाटर हार्वेस्टिंग

जल संरक्षण की दिशा में नए भवन मालिकों में जागरूकता की दरकार

छिंदवाड़ाJun 07, 2024 / 06:45 pm

mantosh singh

जल संरक्षण की दिशा में नए भवन मालिकों में जागरूकता की दरकार

जल संरक्षण की दिशा में नए भवन मालिकों में जागरूकता की दरकार

छिंदवाड़ा. मकान मालिक रैन वाटर हार्वेस्टिंग बनाने की गांरटी के रूप में निगम में सात हजार से 15 हजार रुपए तक की राशि जमा करते हैं। जब मानक अनुरूप रैन वाटर हार्वेस्टिंग बना लिया जाता है, तो उस राशि को वापस लेने के लिए निगम में आवेदन करते हैं। इसकी जांच वार्ड उपयंत्री करके पुष्टि करते हंै। पिछले पांच साल में 230 मकान मालिकों ने रैन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बनाने के बाद आवेदन किया, लेकिन इनमें 176 को ही स्वीकृति मिली और राशि लौटाई गई। पांच साल में भवन अनुज्ञा का आंकड़ा 1000 से अधिक हो गया, लेकिन मानक अनुरूप रैन वाटर हार्वेस्टिंग की संख्या 200 से भी कम रही।
उल्लेखनीय है कि राज्य शासन के निर्देशानुसार जल संरक्षण और जल संवर्धन के लिए सभी नगरीय निकायों और ग्रामों में जल गंगा संवर्धन अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान की शुरुआत पांच जून से जिले में हो चुकी है, जो कि 16 जून तक जारी रहेगी। इस अभियान के अंतर्गत जल संवर्धन और जल स्रोतों के संरक्षण के लिए जागरूकता जैसी विभिन्न गतिविधियां आयोजित की जा रही हैं, लेकिन इन सबसे अलग निगम क्षेत्र में अपना नया मकान बनाने वाले लोग ही जागरूक नहीं हो रहे हैं। नया मकान बनाने वाले शहर के नागरिकों के लिए रैन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बनाना अनिवार्य है, ताकि बारिश के पानी का संचय छत से होते हुए भूमि में हो सके।
मकान मालिक वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम को सिर्फ औपचारिकता के लिए नहीं बनवा सकते हैं। यदि अमानक हार्वेस्टिंग सिस्टम बने तो नगर निगम निविदा आमंत्रित कर वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बनाने के लिए ठेकेदार को अधिकृत करता है। पहले भी निविदा के माध्यम से करीब चार सौ घरों के वाटर हार्वेस्टिंग निगम ने बनवाए थे। अधिकारियों के अनुसार अमानक हार्वेस्टिंग सिस्टम बनाने पर फिर बनाने के लिए निविदा बुलाई जाती है, जिसका खर्च जमा राशि से ही दिया जाता है।
नगर निगम के सहायक यंत्री विवेक सिंह चौहान का कहना है कि रैन वाटर हार्वेस्टिंग बनाने के लिए निगम में निर्धारित राशि जमा की जाती है। कई बार भवन मालिक सिस्टम बनाने के बाद भी राशि वापसी का आवेदन नहीं करते हैं। इससे सभी की जानकारी नहीं मिल पाती है। हालांकि समय-समय पर सभी को वाटर हार्वेस्टिंग के फायदे बताए जाते हैं, जिनके घर या आसपास बोर हैं, उसका भी जलस्तर बढ़ता है।

Hindi News/ Chhindwara / सिर्फ 20 फीसद ने ही बनाया रैन वाटर हार्वेस्टिंग

ट्रेंडिंग वीडियो