पंचायत सचिव का दो माह का वेतन काटा

पंचायत सचिव का दो माह का वेतन काटा

SACHIN NARNAWRE | Publish: Sep, 03 2018 04:48:35 PM (IST) Chhindwara, Madhya Pradesh, India

विकासखंड जुन्नारदेव की अधिकतर ग्राम पंचायतों में लापरवाह सचिव की वजह से ग्राम पंचायत क्षेत्र के ग्रामीणों को परेशान होना पड़ रहा है।

सीएम हेल्पलाइन में शिकायत
पंचायत सचिव का दो माह का वेतन काटा

गुढ़ी अम्बाड़ा. विकासखंड जुन्नारदेव की अधिकतर ग्राम पंचायतों में लापरवाह सचिव की वजह से ग्राम पंचायत क्षेत्र के ग्रामीणों को परेशान होना पड़ रहा है। एवं इन सचिवों की अनुपस्थिति की वजह से ग्रामीणों को छोटे-छोटे काम करवाने को लेकर कई बार पंचायत के चक्कर काटते पड़ते है।
ऐसा ही मामला ग्राम पंचायत नजरपुर में सामने आया है यहां पंचायत सचिव को पंचायत कार्यालय में अनुपस्थित रहना एवं आरटीआई के तहत मांगी गई जानकारी का ना देना महंगा गया है। जिसकी शिकायत सीएम हेल्पलाइन में ग्रामीणों द्वारा करने पर नजरपुर सचिव का दो माह का वेतन कांटा गया। ज्ञात हो कि ग्राम पंचायत नजरपुर निवासी धीरज विश्वकर्मा द्वारा ग्राम पंचायत से आरटीआई के तहत जानकारी मांगी गई जिसमें निर्माणाधीन शौचालय की सूची, खेल मैदान की जानकारी, वार्ड नंबर 8 भवानी खदान के पास बनाए गए कुआं आदि है। जिसके लिए पंचायत सचिव अंजलि साहू से 24 जुलाई को आरटीआई के माध्यम से जानकारी चाही गई लेकिन उन्होंने आवेदन लेने से इनकार कर दिया। तब रजिस्टर्ड डाक के माध्यम से पंचायत से जानकारी चाही गई लेकिन सचिव के अनुपस्थित रहने की वजह से पोस्टमैन ने रजिस्टर्ड डाक वापस ले जा ली। तब शिकायतकर्ता ने 10 अगस्त को सीएम हेल्पलाइन में शिकायत की तब मामले की जांच आने पर सचिव ने बताया गया कि शिकायतकर्ता को जानकारी दे दी गई जो कि सरासर झूठ बोला गया।
इन्हीं सब मामलों को संज्ञान में लेकर नजरपुर सचिव अंजलि साहू का जुलाई एवं अगस्त 2 माह का वेतन काटा गया एवं सचिव पर जांच भी बैठाई गई है। इससे यहां लगता है की सरकार द्वारा पंचायत क्षेत्र या अन्य जगह हुए कामों मे पारदर्शिता लाने के उद्देश्य से आरटीआई के माध्यम से जानकारी ली जा सकती है । लेकिन कुछ ग्राम पंचायत सचिव आरटीआई कानून को ठेंगा दिखाते नजर आ रहे हैं।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned