scriptParshuram jayanti 2022 | Parshuram jayanti: जय परशुराम के नारों से गुंजायमान हुआ छिंदवाड़ा | Patrika News

Parshuram jayanti: जय परशुराम के नारों से गुंजायमान हुआ छिंदवाड़ा

परशुराम वाटिका में सुबह भगवान श्री का पूजन-अर्चन हुआ।

छिंदवाड़ा

Published: May 04, 2022 08:36:18 pm

छिंदवाड़ा. ब्रह्म समाज कल्याण मंडल द्वारा मंगलवार को अक्षय तृतीया के दिन भगवान श्री परशुराम की जयंती हर्षोल्लास के साथ मनाई गई। इस अवसर पर परशुराम वाटिका में सुबह भगवान श्री का पूजन-अर्चन हुआ। इसके पश्चात संकट मोचन हनुमान मंदिर नरसिंहपुर रोड में यगोपवित (जनेऊ) संस्कार का आयोजन किया गया। शाम को संकट मोचन हनुमान मंदिर से बाइक एवं वाहन रैली निकाली गई। रैली में बड़ी संख्या में सामाजिक बंधु, युवा, महिलाएं शामिल हुए। रैली का नेतृत्व मातृशक्तियों ने किया। रैली श्याम टॉकीज, तिलक मार्केट, छोटा तालाब के सामने से पुराना पावर हाउस होते हुए छोटी बाजार राम मंदिर के सामने से मेन रोड होते हुए इतवारी बाजार, अनगढ़ हनुमान मंदिर, राजपाल चौक, पांडे नर्सिंग होम के सामने से शिवाजी चौक होते हुए परशुराम वाटिका पहुंची। भगवान श्री की महाआरती के पश्चात रैली का समापन हुआ। रैली के दौरान जय-जय परशुराम के नारों से शहर गुंजायमान हुआ। 4 मई को शाम 7 बजे से परशुराम वाटिका प्रांगण में वार्षिकोत्सव कार्यक्रम होगा।
Parshuram jayanti: जय परशुराम के नारों से गुंजायमान हुआ छिंदवाड़ा
Parshuram jayanti: जय परशुराम के नारों से गुंजायमान हुआ छिंदवाड़ा
खुब हुई शादियां, दमका बाजार
अक्षय तृतीया के पावन पर्व पर मंगलवार को बाजार दमक उठा। सराफा, कपड़ा, किराना, इलेक्ट्रॉनिक्स, ऑटोमोबाइल बाजार सहित अन्य बाजारों में सुबह से लेकर देर रात तक अच्छी खरीदारी देखी गई। करोड़ों के कारोबार का अनुमान है। वहीं अबूझ मुहूर्त अक्षय तृतीया पर जिले में खुब शादियां हुई। हर जगह बैंड-बाजा के साथ जमकर बारात निकली। बता दें कि वर्षों बाद अक्षय तृतीया पर ग्रहों की विशेष स्थिति बनी। पांच दशक बाद ग्रहों का विशेष योग बना। इस विशेष दिन पर लोगों ने कई शुभ कार्य किया। पूरे दिन दान-पुण्य, स्नान, पूजा की गई। वहीं महिलाओं ने इस शुभ दिन पर सोने चांदी के आभूषण खरीदे। मान्यता है कि इस दिन सोना चांदी खरीदकर घर लाने से मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है। इसके अलावा वाहन, जमीन, मकान की भी खरीदारी हुई। घरों में भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा की गई।
वहीं कई परिवारों में अक्षय तृतीया पर कुंभ(मटका) पूजन की भी परंपरा का निर्वहन किया गया।
एक साथ तीन पर्व
मंगलवार को श्री परशुराम जयंती, अक्षय तृतीया एवं ईद से हर तरफ हर्षोल्लास का माहौल रहा। तीन पर्व एक साथ होने से बाजारों में रौनक रही। हर तरफ जश्न का माहौल रहा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीश्योक नदी में गिरा सेना का वाहन, 26 सैनिकों में से 7 की मौतआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानतRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चआजम खान को सुप्रीम कोर्ट से फिर बड़ी राहत, जौहर यूनिवर्सिटी पर नहीं चलेगा बुलडोजरMumbai Drugs Case: क्रूज ड्रग्स केस में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को NCB से क्लीन चिट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.