16 जून से प्रतिदिन बदलेंगी पेट्रोल-डीजल की कीमतें, ये आ रही समस्याएं..जानिए

16 जून से प्रतिदिन बदलेंगी पेट्रोल-डीजल की कीमतें, ये आ रही समस्याएं..जानिए
chhindwara

manohar soni | Updated: 13 Jun 2017, 11:50:00 AM (IST) Chhindwara, Madhya Pradesh, India

आगामी 16 जून से पेट्रोल पंप में पेट्रोल-डीजल के भाव प्रतिदिन अपडेट करने के आदेश ने जिले में खलबली मचा दी है।



छिंदवाड़ा. आगामी 16 जून से पेट्रोल पंप में पेट्रोल-डीजल के भाव प्रतिदिन अपडेट करने के आदेश ने जिले में खलबली मचा दी है।  कुछ पेट्रोल पंपों को छोड़कर अधिकांश में रेट अपडेट करनेवाली ऑटोमेशन मशीन नहीं होने से पंप संचालक मुश्किल में पड़ गए है। छिंदवाड़ा की तरह पूरे देश में यहीं स्थिति होने पर पेट्रोल पंप डीलरों की ऑल इण्डिया स्तर की यूनियन ने पेट्रोलियम मंत्री के समक्ष विरोध दर्ज कराया है।

 पूरे जिले में इस समय 58 पेट्रोल पंप है। इनमें शहर के तीन-चार पेट्रोल पंप में ही ऑटोमेशन मशीन लगी हुई है। इसके माध्यम से पेट्रोलियम कम्पनी किसी भी समय  पेट्रोल-डीजल के नए रेट बदल सकती है। जबकि  अधिकांश में मैनुअल ही कर्मचारी कम्पनी के संदेश पर रेट बदलते हैं। पंप संचालकों का कहना है कि जब भी पेट्रोल-डीजल के मूल्य में परिवर्तन होता है, उसका संदेश रात 12 से एक बजे के बीच मिलता है।  उसे मैनुअल ही मशीन में सेट करना पड़ता है। एेसे में प्रतिदिन रेट बदले जाएंगे तो उनका काम करना मुश्किल होजाएगा। कभी किसी पेट्रोल पंप में तुरंत रेट नहीं बदले गए तो मामला अपराध की श्रेणी में आ जाएगा। इससे उपभोक्ताओं को भी नुकसान हो सकता है।

उपभोक्ताओं की दृष्टि में लाभ-हानि
सरकार का मकसद पेट्रोल-डीजल की कीमतों में होनेवाले उतार-चढ़ाव को बाजार पर आधारित करना है। इस दृष्टि से उपभोक्ताओं को कभी मूल्य कम होने पर फायदा होगा तो वहीं मूल्यवृद्धि पर नुकसान उठाना होगा। उपभोक्ताओं की आम राय यह भी है कि शहरी क्षेत्र में तो यह निर्णय ठीक होगा लेकिन ग्रामीण इलाकों के पेट्रोल पंपों में धांधली बढ़ सकती है। वे तुरंत रेट परिवर्तन का लाभ नहीं भी दे सकते है।

एसोसिएशन ने किया विरोध
पेट्रोल पंप डीलरों की ऑल इण्डिया एसोसिएशन ने सरकार के इस फैसले में व्यवहारिक समस्याओं को देखते हुए विरोध दर्ज कराया है। एसोसिएशन के स्थानीय पदाधिकारियों का कहना है कि सरकार ने दबाव बनाया तो पेट्रोल पंप डीलर हड़ताल पर भी जा सकते हैं। इस संबंध में 14 जून को उज्जैन में मीटिंग रखी गई है।

इनका कहना है..
पेट्रोल पंप में नियमित रेट परिवर्तन में व्यवहारिक समस्याएं ज्यादा है। इससे संचालकों को मुश्किल होगी वहीं उपभोक्ताओं को संतुष्ट नहीं किया जा सकेगा। इसके अलावा हर जगह कम्पनियों ने ऑटोमेशन मशीन नहीं दी है।
 -विक्रम चौधरी, संचालक पेट्रोल पंप

सरकार के इस फैसले के खिलाफ पेट्रोल पंप डीलर्स एसोसिएशन ने विरोध दर्ज कराया है। पेट्रोल पंप में अधिकांश जगह रेट बदलने का काम मैनुअल होता है। परिवर्तित रेट समय पर भी नहीं मिल पाते हैं।
-मनीष पाण्डेय, उपाध्यक्ष पेट्रोल पंप डीलर्स एसोसिएशन छिंदवाड़ा

प्रतिदिन रेट बदले जाने से उपभोक्ता और पेट्रोल पंप डीलरों के बीच विवाद होंगे। इस विसंगति पूर्ण निर्णय से उपभोक्ताओं में हमेशा भ्रम की स्थिति बनी रहेगी।
-गुंजन शुक्ला, अध्यक्ष छिंदवाड़ा सोसाइटी
हर रोज पेट्रोल-डीजल के दाम निर्धारण का सरकार का फैसला उपभोक्ता हित में नहीं है। इससे उसके ठगे जाने की संभावना बढ़ेगी।
-शक्ति सिंह, अधिवक्ता
Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned