मुख्यमंत्री के जिले में महज दिखावे का विकास: कागज पर कुछ, हकीकत में कुछ और

मुख्यमंत्री के जिले में महज दिखावे का विकास:  कागज पर कुछ,  हकीकत में कुछ और
Plantation of Plantation in the Plains

Prabha Shankar Giri | Updated: 30 Jun 2019, 10:58:41 AM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

कागज में 95 फीसदी पौधे जीवित, मैदान में प्लांटेशन का फर्जीवाड़ा

छिंदवाड़ा. वनमण्डल के अंतर्गत कैम्पा निधि में क्षतिपूर्ति वनीकरण योजना के अधीन अमरवाड़ा-उमरानाला बायपास में लगाए गए प्लांटेशन के फर्जीवाड़े की परतें लगातार खुलती जा रहीं हंै। मंडल के अधिकारियों ने खुद अपने विभागीय दस्तावेज में 95 फीसदी पौधे के जीवितता का दावा किया है, लेकिन मैदान में ठीक विपरीत स्थिति में प्लांटेशन सूखे पाए गए हैं। इसकी उच्च स्तरीय जांच कराई जाए तो छोटे कर्मचारी से लेकर बड़े अधिकारियों तक जेल चले जाएंगे।
एक जानकारी के मुताबिक रिंग रोड में वन विभाग द्वारा 5690 पौधों में से 5406 पौधे जीवित बताए गए और उस पर केवल तीन लाख एक हजार 579 रुपए खर्च होना बताया गया है। यह जानकारी पिछले फरवरी माह में विधानसभा में भी भेजी गई थी जबकि वास्तविक यह है कि 1.83 करोड़ रुपए के इस प्रोजेक्ट में एक करोड़ रुपए से अधिक राशि खर्च की गई है। आखिर शेष राशि की जानकारी कहां गई?
यह बड़ा सवाल उभरकर सामने आया है। एक दिन पहले डीएफओ एसएस उद्दे ने बातचीत में यह स्वीकार किया था कि रिंग रोड में पाला पड़ जाने के चलते पौधे सूख गए। फिर कागज में 5406 पौधों के जीवित होने का दावा क्यों हो रहा है? जिसके जवाब में वन अधिकारी मौन बताए जा रहे हैं। दुखद
यह है कि यह गड़बड़ी मुख्यमंत्री कमलनाथ के जिले में की जा रही है।

लगातार पौधे सूखने पर डीएफओ जिम्मेदार
सेवानिवृत्त सहायक वन संरक्षक आरएस कुशवाहा का कहना है कि कैम्पा मद में प्लांटेशन असफल रहने पर डीएफओ के विरुद्ध कार्रवाई का प्रावधान किया गया है। रिंग रोड का प्लांटेशन दो साल से असफल हो रहा है। इस योजना की तकनीकी स्वीकृति 24 अक्टूबर 2016 को तत्कालीन सीसीएफ चितरंजन त्यागी ने दी थी। कुशवाहा के मुताबिक योजना में यह भी प्रावधान था कि कोई भी परिवर्तन बिना सीसीएफ के अनुमोदन के नहीं होगा। इसके साथ ही पौधरोपण की गुणवत्ता पर सतत निगरानी रखी जाएगी। लिंगा बायपास से लेकर सिवनी रोड रामगढ़ी तक इन पौधों की बदहाली को देखकर इसका पालन होने का अंदाजा लगाया जा सकता है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned