पुलिस ने खाली कराया कुआं, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

हत्या के बाद पुलिस की पिस्टल छीनकर फरार हुए आरोपियों का सुराग हाथ नहीं लगा है।

By: prashant sahare

Published: 11 Sep 2017, 05:26 PM IST

छिंदवाड़ा. हत्या के बाद पुलिस की पिस्टल छीनकर फरार हुए आरोपियों का सुराग हाथ नहीं लगा है। पिस्टल छीनने में शामिल एक आरोपी ने कोतवाली थाना में सरेंडर किया है, लेकिन इसके बाद से कोई सफलता पुलिस के हाथ नहीं लगी है। भोपाल के ईंटखेड़ी क्षेत्र मेंं लगातार छानबीन करने के बाद न तो पिस्टल मिली न ही अन्य फरार आरोपियों का सुराग हाथ लगा। फिलहाल एक टीम भोपाल से खाली हाथ लौट चुकी है। हालांकि अन्य टीमेें अभी जांच और तलाश में जुटी है।


भोपाल के ईंटखेड़ी इलाके से धरमटेकड़ी चौकी प्रभारी दीपक यादव की पिस्टल लेकर फरार होने वाले तीन आरोपियों का सुराग पुलिस के हाथ नहीं लगा है। कई स्थानों पर दबिश देने के बाद भी सफलता हाथ नहीं लगने पर रविवार को टीम छिंदवाड़ा लौट गई। बताया जा रहा है कि अभी पिस्टल भी नहीं मिल पाई है। अन्य टीमें आरोपियों को हर संभावित स्थान पर तलाश रही। पुलिस आरोपियों के परिजन पर भी लगातार दबाव बनाकर उनका सुराग जुटाने का प्रयास भी कर रही, लेकिन पिछले कुछ दिनों से किया जा रहा यह प्रयास भी सफल नहीं हो पाया है। उल्लेखनीय है कि हत्या की साजिश रचने के आरोपी नरेंंद्र पटेल और सुरेंद्र पटेल का मुखबिर से सुराग मिला था। टीम का आरोपियों से आमना-सामना भी भोपाल में हुआ, लेकिन वे चौकी प्रभारी की पिस्टल छीनकर फरार हो गए।

यह है मामला
जिला एवं सत्र न्यायालय में हत्या के प्रयास के आरोपी इकलाख कुरैशी की गोली मारकर हत्या की गई थी। साजिश रचने वाले नरेंद्र पटेल, सुरेंद्र पटेल और रिक्की खंडूजा फरार हो गए थे। टीम को मुखबिर से सूचना मिली थी कि नरेंद्र और सुरेंद्र पटेल भोपाल में है। पुलिस का ईंटखेड़ी क्षेत्र में आरोपियों से आमना-सामना हुआ, इस दौरान नरेंद्र पटेल पिस्टल छीनकर फरार हो गया। पटेल के साथ सुरेंद्र, अंकित माटा और टीनू धारू भी थे। इस वारदात में शामिल आरोपी अंकित के सरेंडर करने की चर्चा है।

कोतवाली थाना पुलिस ने रविवार सुबह से दोपहर बाद तक कुंडीपुरा थाना क्षेत्र के ग्राम सोनाखार में एक कुएं का पानी खाली कराया। पानी खाली होने के बाद तलहटी में तलाश की गई, यहां से क्या बरामद किया गया इसका खुलासा अभी नहीं किया गया है। बताया जा रहा है कि पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि हत्या की साजिश रचयने के आरोपी नरेंद्र पटेल सहित अन्य आरोपियों ने कुएं में मोबाइल सहित अन्य सामग्री फेंकी है जिसे हासिल करने के लिए कुएं का पानी खाली कराने के बाद उसे तलाशा गया है। आरोपियों के मोबाइल पुलिस के हाथ लगते हैं तो कई तरह के खुलासे हो सकते हैं।

prashant sahare
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned